bhagwan sri sathya sai baba 900 name – Sahasranamavali in hindi

bhagwan sri sathya sai baba 900 name – Sahasranamavali in hindi:

 

1.     ओम श्री सत्य साई सद्गुरुवे नमः प्रणाम
श्री साईं को, पवित्र शिक्षक को

2.     ओम श्री साईं अखण्ड परिचार्य सच्चिदानंदाय नमः
श्री साई को सम्पूर्ण अस्तित्व, चेतना और आनंद

3.     ओम श्री साईं अखिलाधाराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सभी का समर्थन

4.     ओम श्री साईं अखिलेश्वराय नमः
प्रणाम श्री साईं को, सभी का गुरु

5.     असंख्य गुणों के स्वामी श्री साई को ओम श्री साईं अग्निनाथ गौनाय नमः सलाम

6.     ओम श्री साई gra nyaaya नमः तैयार करने के लिए
श्री साईं, सुप्रीम करने के लिए अभिवादन

7.     ओम श्री साईं अचंचलाय नमः स्तोत्रं
श्री साईं को स्थिर

8.     ओम श्री साई पर nthyaaya नमः
अभिवादन साई छोड़ने के लिए, NCO एक व्यापक hensible

9.     ओम साईं साईं अचिन्त्यशक्तये नमः श्री साईं को अचूक शक्ति का अधिकारी

10.  ओम श्री साईं अनुवे नमः
श्री साई को नमस्कार, सूक्ष्म

11.  ओम श्री साईं अथिसुंदरवदनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सबसे सुंदर चेहरा

12.  ओम श्री साईं अथिप्रेमप्रदर्शकाय नमः प्रणाम
श्री साई को, दिव्य प्रेम का सर्वश्रेष्ठ

13.  ओम श्री साईं अष्टाध्याय नमः श्री साईं को प्रणाम
, पहुँच से परे

14.  ओम श्री साई Athulaaya नमः
श्री साई, अप्रतिम को अभिवादन

15.  ओम श्री साईं अथयुदराय नमः प्रणाम श्री साई को, सबसे उदार

16.  श्री साईं को अदभुताचार्याय नमः
नमस्कार, अलौकिक शक्ति वाला

17.  श्री साईं अर्धनारीश्वराय नमः
को श्री साईं को अर्धांगिनी और आधी स्त्री का रूप (अर्थात शिव और शक्ति)

18.  ओम श्री साईं अनंताय नमः सलाम
श्री साई को अनंत

19.  ओम श्री साईं अनघाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, बिना किसी पाप के

20.  ओम श्री साईं अनंतकल्याणगुणाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो असंख्य गुणों का अधिकारी है

21.  श्री साईं अनंतानुत्थतीर्थाय नमः श्री साई को प्रणाम
, जो असंख्य नामों से गाया जाता है

22.  श्री साईं अनंतसुखायदाया नाम श्री साईं को प्रणाम
, जो अनंत सुख देता है

23.  ओम श्री साईं अन्नवस्त्रदाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, जो भोजन और वस्त्र देता है

24.  ओम श्री साईं अनाथनाथाय नमः
नमस्कार के संरक्षक श्री साई को नमस्कार

25.  ओम श्री साईं अनाथवत्सलाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, असहाय को स्नेह

26.  ओम श्री साई अनाथराक्षाय नमः सलाम श्री साई को, रक्षा करने वाले को

27.  ओम साईं साईं अनादिनिधनाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, बिना शुरुआत या अंत वाला

28.  ओम श्री साईं अनामयै नमः श्री साई को प्रणाम
, जो बंधन से मुक्त हो

29.  ओम श्री साई Anivrittaatmane नमः
श्री साई, जो कहीं से भी दूर कर दिया नहीं है करने के लिए अभिवादन

30.  ओम श्री साईं अनुग्राहकत्रे नमः
प्रणाम श्री साईं को, अनुग्रह देने वाले को

31.  श्री साईं को ओम श्री साईं अंकमूर्तये नमः
नमस्कार, जिनके कई रूप हैं

32.  ओम श्री साईं अन्तर्यामीं नमः श्री साईं को नमस्कार, सभी में विराजमान

33.  ओम श्री साईं अंतःकरण शुद्धि प्रदायकाय नमः श्री साईं को नमस्कार है, जो मन को पवित्र
करता है

34.  ओम श्री साईं अपराजितायै, श्री साईं को नमस्कार , अचिन्त्य

35.  ओम श्री साईं अपारुपाशक्तये नमः
को श्री साईं को नमस्कार है, जिनके पास अद्वितीय शक्तियाँ हैं

36.  ओम श्री साईं अपामृत्युनाशकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो अप्राकृतिक मृत्यु को दूर करता है

37.  ओम श्री साईं अपारदारात्मने नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो आत्म बोध कराता है

38.  ओम श्री साईं अपारशक्तये नमः प्रणाम
श्री साई को, जो असीम शक्ति रखता है

39.  श्री साईं को ओम श्री साईं अपूर्वशक्त्यै नमः सलाम
, जो अभूतपूर्व शक्ति रखता है

40.  ओम श्री साई Aprameyaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, जो सबूत के उद्देश्य ज्ञान से परे है

41.  ओम श्री साईं अभयप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो निर्भयता का गुण प्रदान करे

42.  ओम श्री साईं अभय हस्ताय नमः श्री साईं को प्रणाम
, उठा हुआ ताड़, सुरक्षा का प्रतीक

43.  ओम श्री साईं अभिलाषाप्रसादकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, मनोकामनाओं को पूर्ण करने वाला

44.  ओम श्री साईं अभिष्टदायकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो कामनाओं को पूरा करता है

45.  ओम श्री साईं अभेदानंदप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो अखंड आनन्द देता है

46.  ओम श्री साईं अमराय नमः सलाम
श्री साईं को, शाश्वत

47.  ओम श्री साईं अमरप्रभावे नमः
श्री अमर के भगवान श्री साई को नमस्कार

48.  देवताओं के भगवान श्री साई को ओम श्री साईं अमराधिश्वराय नमः प्रणाम

49.  ओम श्री साईं अमलाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो कि ऊँ, बेदाग, स्टेनलेस है

50.  ओम श्री साईं अमरथाय नमः श्री साई को अमर प्रणाम

51.  ओम श्री साईं अमितापरमायाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, अथाह शक्ति वाला

52.  श्री साईं को ओम श्री साईं अमिताभूषणाय नमः सलाम
, जो पूरे ब्रह्मांड को भंग करने का कारण बनता है

53.  ओम श्री साई Amrithaaya नमः
श्री साई, अविनाशी को अभिवादन

54.  ओम श्री साईं अमृतवृक्षे नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो अमृत की वर्षा करे

55.  ओम श्री साईं अमृतभूषणाय नमः श्री साईं को नमस्कार, अमृतमय
भाषण के साथ

56.  ओम श्री साईं अमोघसम्पन्नाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो पूर्णता रखता है

57.  ओम श्री साईं अरविंदक्षाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, कमल नेत्रों वाला

58.  ओम श्री साईं अरुणाचलाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो अरुणाचल (भगवान शिव) हैं

59.  ओम श्री साईं अरूपवयक्षाय नमः श्री साईं को निराकार और अगोचर सलाम

60.  ओम श्री साईं श्रीरोगाद्रिगात्रप्रसादकाडाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो मजबूत स्वस्थ शरीर देता है

61.  ओम श्री साई अलंकृताक्षाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, सजे हुए बालों के साथ

62.  श्रीं श्री साईं अवतरमूर्तिाय नमः
नमस्कार, श्री साई को सभी अवतारों का स्वरूप

63.  ओम श्री साईं अविघ्नकारकाय नमः सलाम श्री साई को बाधाओं का निवारण

64.  ओम श्री साईं अविद्याताय नमः शिवाय
श्री साईं को नमस्कार

65.  साई नमः ओम में श्री Avyaktharupaaya
साई में श्री के लिए अभिवादन, बस unmanifested

66.  Om Sri Sai Avyayaaya Namah
Salutations to Sri Sai, the inexhaustible

67.  श्रीं श्री साईं अष्टकारायै नमः
श्री साईं को नमस्कार

68.  ओम श्री साईं अश्लेषानंदवंद्यै नमः श्री साईं को नमन
, सभी ने की पूजा

69.  ओम श्री साईं अक्षयाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जिसका क्षय नहीं होता है

70.  ओम श्री साई अष्टसिद्धि प्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो आठ प्रकार की शक्तियाँ प्रदान करता है

71.  ओम श्री साई Akshobhyaaya नमः
श्री साई, अडिग को अभिवादन

72.  ओम श्री साईं अजनाय नशनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, अज्ञान का नाश करने वाला

73.  ओम श्री साईं अहंकारा नौशनाय नमः
अहंकार का नाश करने वाले को श्री साईं नमस्कार

74.  ओम श्री साईं अंबुजलोचनाय नमः प्रणाम
श्री साई को, कमल के समान नेत्र वाले

75.  ओम श्री साईं अगमसमस्तथाय नमः श्री साईं को नमस्कार, पवित्र ग्रंथों
द्वारा की गई स्तुति

76.  ओम श्री साईं अत्थानकिग्रहाय नमः प्रणाम श्री साईं को, मन की पीड़ा का निवारण

77.  ओम श्री साईं अवधेशशरणाय नमः
श्री साई को प्रणाम, आदित्य पर पड़ा महान सर्प

78.  ओम श्री साईं अर्थरत्न परायणाय नमः
श्री साई को नमस्कार, दुःख से दुःख से बचाता है

79.  ओम श्री साईं अष्टसामराक्षनैदक्षिष्ठाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, पीड़ितों के उत्थान के लिए समर्पित

80.  श्री साईं को ओम श्री सलतिथाय नमः सलाम
, दुःख का नाश करने वाला

81.  ओम साईं श्री साईं आत्मानंदाय नमः प्रणाम
, श्री साईं को, जो परम आनंद प्रदान करता है

82.  आत्मा को ज्ञान का उपदेश देने वाले श्री साई को ओम श्री साईं आत्मतत्व बोधकाय नमः सलाम

83.  ओम श्री साईं आत्मारामनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो स्वयं में आनन्दित हो

84.  ओम श्री साईं आत्मनमतमाविचार बोधकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो स्वयं और गैरस्व का उपदेश करता है

85.  ओम श्री साईं आदर्षपुरुषाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो हर एक के लिए आदर्श है

86.  ओम श्री साईं आदिपुरुषाय नमः श्री साई को प्रणाम
, बहुत पहले

87.  ओम श्री साई Aaadishakthaye नमः
श्री साई, मौलिक ऊर्जा को अभिवादन

88.  ओम श्री साई Aadidevaaya नमः
श्री साई, पहले ही देवता को अभिवादन

89.  ओम श्री साईं आदिवस्तु नमः श्री साईं को प्रणाम
, आदिम वस्तु

90.  श्री साईं को ओम श्री साईं अरी कुरमाया नमः सलाम
, पहले कछुए का अवतार (भगवान विष्णु के दस अवतारों में से एक)

91.  ओम साईं साईं वर वराहाय नमः
श्री साई को अवतार, प्रथम वर का अवतार (भगवान विष्णु के दस अवतारों में से एक)

92.  ओम श्री साईं अयादन्तरहितै नमः श्री साईं को प्रणाम
, बिना शुरुआत या अंत वाला

93.  ओम श्री साईं आधारशक्तये नमः प्रणाम
श्री साई को, शक्ति की बहुत ही नींव

94.  ओम साईं श्री साईं आराध्यनालयाय नमः Sai श्री साईं
को नमस्कार, सभी पाँच सहायक तत्वों (ईथर, वायु, अग्नि, जल और पृथ्वी) के लिए भी सहायक है

95.  ओम श्री साईं अदिव्यधाराय नमः
106 श्री साईं को नमस्कार है, जो रोगों को दूर करता है

96.  ओम श्री साईं अयनंदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो शुद्ध आनंद है

97.  श्री साईं को प्रणाम, श्री साईं को नमन
, श्री साईं को नमस्कार

98.  ओम श्री साईं अरण्यं भारितायै नमः सलाम
श्री साईं को, जो आनंदमय है

99.  श्री साईं को प्रणाम , श्री साईं को प्रणोदकाय नमः प्रणाम

100.                ओम श्री साईं अरण्यरूपाय नमः
को श्री साईं को नमस्कार है, जो आनंद के रूप में है

101.                ओम श्री साईं अपभ्रंण्डवयै नमः
सलुतायें श्री साईं, व्यथित के एकमात्र रिश्तेदार

102.                ११४ ओम श्री साईं अपननिवारकाय नमः नमस्कारों
का नाश करने वाले श्री साई को नमस्कार

103.                ओम श्री साईं आपस्तम्बसुत्राय नमः श्री साईं के वंशज, आपस्तम्ब
के वंशज

104.                ओम श्री साईं आरोग्यप्रदाया नाम
श्री साईं को नमस्कार, जो स्वास्थ्य प्रदान करता है

105.                ११pa ओम श्री साईं आशापाशा नमः नमः शिवाय का जाप
करने वाले श्री साई को नमस्कार

106.                ओम श्री साईं अष्टाक्षाय नमः
श्री साई को नमस्कार, शरणागत की रक्षा करने वाले को

107.                ओम श्री साईं आश्रिता वत्सलाय नमः श्री साई को नमस्कार, शरणागत के
प्रति स्नेह रखने वाला

108.                मैं मा Asato श्री मा के साई नमः Aahlaada Vadanaaya पूजा
अभिवादन श्री मैं की पूजा करने के साई, के लिए एक एक रमणीय साथ पर चित्रित किया

109.                ओम श्री साईं अञ्जनेयै नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो अंजनेय के रूप में हैं (अंजना के पुत्र)

110.                ओम श्री साईं इकारारुपाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो तीसरे स्वर ‘I’ के रूप में है

111.                ओम श्री साईं इतिहस्तसथि श्रुताय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो किंवदंतियों में प्रशंसा के द्वारा समझा जाता है

112.                ओम श्री साईं इंद्रादिप्रीयाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो इंद्र और अन्य देवताओं के प्रिय हैं

113.                ओम श्री साईं इंद्र भोग फलप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो स्वर्गीय सुखों को प्रदान करता है

114.                ओम श्री सीय इक्षाशक्ति जननाशक्ति स्वरुपाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो इच्छा शक्ति और ज्ञान के रूप में है

115.                श्री साईं को ओम श्री साईं ईशताय नमः सलाम
, जो सभी को पसंद आए

116.                ओम श्री साईं ईष्टमूर्ति फलप्रापते नमः श्री साई को नमस्कार, जो प्रिय रूप में मनोवांछित फल
देते हैं

117.                ओम श्री साईं इष्टदेवता वरदाय नमः
को श्री साईं को नमस्कार है, जो इच्छा करता है

118.                ओम श्री साईं इष्टकापायप्रदायाय नमः श्री साईं को नमस्कार है, जो मनोवांछित
फल देता है

119.                ओम श्री साईं इतिभितिहरायै नमः
श्री साईं को नमस्कार, संकट का भय नष्ट करने वाला

120.                ओम श्री साईं ईश्वराय नमः प्रणाम
श्री साईं को, सर्वव्यापी स्वामी

121.                ओम श्री साईं ईशानाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, सभी का गुरु

122.                ओम श्री साईं ईश्वरम्बसोताय नमः सलाम श्रीश्री
साईं को, ईश्वरम्बा के पुत्र को

123.                श्री साईं को ओम श्री साईं ईश्वरकृत्यै नमः
नमस्कार, जो भगवान शिव के समान है

124.                ओम श्री साईं इप्सितार्थाय प्रदायकाय नमः श्री साईं को नमस्कार, जो अनुरोधों को स्वीकार करे

125.                ओम श्री साईं ईशानत्रयवरजिताय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो 3 प्रकार के धन से रहित है

126.                श्री साई नमः ओम में Uttamaaya
साई में श्री के लिए अभिवादन, बस सर्वोच्च

127.                ओम साईं श्री साईं उत्तम गुनसम्पन्नाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो उत्कृष्ट गुणों का अधिकारी है

128.                ओम् श्री साईं ऊत्साहाय नमः
नमस्कार, श्री साई को ऊर्जावान

129.                ओम श्री साईं उदयराय नमः सलाम श्री साई को, महानुभावों
को

130.                ओम श्री साईं उदयकारतीर्थाय नमः
को श्री साईं को नमस्कार है, जिनका सही से त्याग किया जाता है

131.                ओम श्री साईं उदिप्रसादाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, पवित्र राख देने वाले (विभूति)

132.                आध्यात्मिक मार्गदर्शक श्री साई को ओम श्री साईं उपाध्याय नमः सलाम

133.                ओम श्री साईं उपदाह्रवर्णाय नमः श्री साईं को कष्टों
का नाश करने वाले

134.                ओम श्री साईं अनमतायै नमः सलाम श्री साई को, जो परे शान
है

135.                ओम श्री साईं उमामहेश्वरस्वरुपाय नमः
नमस्कार उमा के महान गुरु श्री साई को

136.                ओम श्री साईं उरगादिपरीयै नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो नागों के शौकीन हैं

137.                ओम श्री साईं उर्गाविभूषणाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो नागों से सुशोभित हैं

138.                ओम श्री Ssi Ushnashamanaaaya नमः श्री साईं को प्रणाम
, वह जो उपदेश देता है

139.                ओम श्री साईं उर्जाप्पलाकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो शक्ति को पुनर्स्थापित करता है

140.                ओम श्री साईं ऊर्जगथायदायका नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो स्फूर्ति देने वाला मार्ग दे

141.                ओम श्री साईं उर्जाशैलायै नमः स्तोत्रं श्री साईं, जो शक्ति से विभूषित करते हैं

142.                श्री साईं को ओम श्री साईं उर्जिताय नमः सलाम
, जो नायाब है

143.                ओम श्री साईं उर्जितशासनाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनकी आज्ञा अमोघ है

144.                ओम श्री साईं उर्जितोदर्यै नमः
श्री साई को नमस्कार, जो शक्ति से परिपूर्ण हैं

145.                श्री साईं को ओम श्री साईं रुजुकाराय नमः सलाम
, जो सब कुछ सही सेट करता है

146.                ओम श्री साईं रुजुरूपाय नमः
नमस्कार, श्री साई को सही रूप

147.                ओम श्री साईं रूजुमरगप्रधानशरणाय नमः सलाम
, सही मार्ग के उपदेशक

148.                ओम श्री साईं रनत्रयविमोचनाय नमः श्री साईं को प्रणाम , 3 ऋणों से मुक्ति
देने वाला

149.                ओम श्री साईं ऋषिदेवगणस्तुत्यै नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनकी स्तुति ऋषियों और देवताओं द्वारा की जाती है

150.                ओम् श्री साईं एकापथाय नमः शिवाय
श्री साईं को नमस्कार है

151.                ओम श्री साईं एकंगनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, केवल और केवल

152.                ओम श्री साईं एकांतयै नमः सलाम
, श्री साई को, एकमात्र परम लक्ष्य

153.                ओम श्री साईं एकमासाय नमः
श्री साईं को नमस्कार

154.                पापों की बुराइयों का नाश करने वाले श्री साईं को ओम श्री साईं महानाय नमः सलाम

155.                ओम श्री साईं ऐश्वर्यै नमः
नमस्कार, श्री साईं को धन के भगवान

156.                ओम श्री साईं ऐश्वर्यदायकाय नमः
नमस्कार, श्री साई को, जो संप्रभुता प्रदान करता है

157.                ओम श्री साईं ओंकाररूपाय नमः प्रणाम
श्री साई को, जो पवित्र शब्दओएमके रूप में है

158.                श्री साईं को ओम श्री साईं ओंकारगरात्राय नमः
नमस्कार, जिसका स्वरूप या स्वरूप स्वयं वर है

159.                श्री साईं को ओम श्री साईं ओंकारप्रियाय नमः प्रणाम
, जो पवित्र शब्दओमको पसंद करता है

160.                ओम श्री साईं ओंकारपरामर्थाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सबसे अधिक आध्यात्मिक ज्ञान का अर्थओम

161.                श्री साईं को ओम श्री साईं ओंकाराय नमः सलाम
, जो कि रहस्यवादी शब्दओएमही है

162.                ओम श्री साईं औदुम्बराया नमः
श्री साईं को ऊदम्बारा (भगवान यम) नमस्कार

163.                ओम श्री साईं ऊदयार्यै नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो श्रेष्ठ है

164.                ओम श्री साईं औदयार्य शीलाय नमः
श्री साई को नमस्कार, उत्तम चरित्र वाला

165.                ओम श्री साईं ओषधकाराय नमः नमस्कार श्री साईं को, जो औषधियों का दान करता है

166.                ओम श्री साईं कर्पूरकांति धवलित शोभायाय नमः श्री साईं को नमन
, जिन्हें कपूर की महिमा से सजाया गया है

167.                ओम श्री साईं कमनीयाय नमः सलाम
श्री साईं को प्रसन्न करने वाला

168.                श्री श्री कर्मधामस्मिने नमः
श्री साईं को नमस्कार, कर्मों का नाश करने वाला

169.                ओम श्री साईं कर्माध्याय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो कर्मों को श्रेष्ठ करता है

170.                ओम श्री साईं करुणाकाराय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो दयालु है

171.                दया के सागर श्री साई को ओम श्री साईं करुणासागराय नमः सलाम

172.                ओम श्री साईं करुणानिधिाय नमः
प्रणाम श्री साईं को, सहानुभूति का खजाना

173.                ओम श्री साईं करुणास्रसम्पन्नराय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो कोमल स्नेह से परिपूर्ण हैं

174.                ओम श्री साईं करुणापूर्णैराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जिनका हृदय दया से भर जाता है

175.                ओम श्री साईं कलानिधिाय नमः
कला की गैलरी श्री साई को नमस्कार

176.                ओम श्री साईं कलाधराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो कलाओं का आधार है

177.                ओम श्री साईं कलियुगवार्दयाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो काली युग के भगवान हैं

178.                श्री साईं को कालिकमश्नाशनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो कलयुग की अशुद्धियों को नष्ट करता है

179.                ओम साईं साईं कालीतापहृदय नमः प्रणाम
श्री साई को, जो कलि युग के कष्टों को नष्ट करता है

180.                ओम श्री साईं कलुषविदुराय नमः श्री साईं को अशुद्धियों का निवारण

181.                ओम श्री साईं कल्याणायुनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जिनके पास अच्छे गुण हैं

182.                ओम श्री साईं कल्पतरुवे नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो मनोकामना पूर्ण करने वाले वृक्ष के रूप में है

183.                ओम श्री साई कल्पानंदकाय नमः प्रणाम
श्री साई को, जिनसे समय का बीज अंकुरित होता है

184.                ओम श्री साईं कलमाशध्वस्मिने नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो अंधकार का नाश करता है

185.                ओम् श्री साईं कविपुंगवायै नमः प्रणाम
श्री साई को, प्रख्यात कवि

186.                ओम श्री साईं कनकंबराधराय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो स्वर्ण वस्त्र पहनते हैं

187.                ओम श्री साईं कालकर्णहितै नमः
श्री साईं को नमस्कार, वह जो बिना किसी दोष के हो

188.                श्री साईं को ओम श्री साईं कामरुपाय नमः सलाम
, जो किसी भी रूप को ग्रहण करने में सक्षम है

189.                ओम श्री साईं कामनाशनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, इच्छा का नाश करने वाला

190.                क्रोध और कामना को नष्ट करने वाले श्री साई को ओम श्री साईं कामाक्रोधधामस्मिने नमः

191.                ओम श्री साईं काम्यथालपाधायकाय नमः श्री साईं को नमस्कार है, जो मनोवांछित फल
देता है

192.                श्री साईं को ओम श्री साईं करणनाय नमः सलाम
, जो सबका कारण है

193.                ओम साईं साईं कारयकारायण श्रीराय नमः सलाम
श्री साईं को, विशेष रूप से कारण शरीर

194.                ओम साईं श्री साईं कारयकारायणं निर्मुखाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, विशेष परिणामों से मुक्ति देने वाला

195.                ओम श्री साईं करुण्यमूर्तिाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, नमस्कार

196.                ओम श्री साईं कालाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, समय की पहचान

197.                ओम श्री साईं कालकालाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो समय से परे है

198.                ओम श्री साईं कालकांताय नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनकी गर्दन गहरे नीले रंग की है (भगवान शिव)

199.                ओम श्री साईं कालथिताय नमः
श्री साईं को नमस्कार, वह जो समय से परे है

200.                ओम श्री साईं कालदर्प दमनाय नमः श्री साईं को नमस्कार है, जो समय के गौरव का प्रतीक है

201.                ओम श्री साईं कालभैरवाय नमः भगवान शिव का उन्मत्त रूप श्री साई
को नमस्कार

202.                ओम साईं श्री श्यामपताथ नमः
श्री साईं को नमस्कार करते हैं, जो भूरे रंग के वस्त्र पहनते हैं

203.                ओम श्री साईं कुशलायै नमः
श्री साईं को कुशल, नमस्कार

204.                ओम श्री साईं कुबेराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो कुबेर (धन के देवता) के रूप में हैं

205.                ओम श्री साईं कुमारागुरुपराय नमः स्तोत्रं
श्री साईं को, युवाओं के लिए बहाना

206.                ओम श्री साई कुवालेक्षनाय नमः
श्री साई को नमस्कार है, जिनकी कमल आँखें हैं

207.                ओम श्री साईं कूटस्थाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो सब कुछ मानता है

208.                Om Sri Sai Krithajnaaya Namah
Salutations to Sri Sai, the grateful

209.                ओम श्री साईं कृपानिधये नमः
श्री साईं को नमस्कार, दया का खजाना

210.                ओम श्री साईं कृपाकाराय नमः
नमस्कार श्री साई को नमस्कार है

211.                भगवान श्रीकृष्ण को ओम श्री साईं कृष्णाय नमः
सलाम

212.                श्री साई को ओम श्री साई केशवाय नमः सलाम
, जो केशव (निर्माता, रक्षक और ट्रांसफार्मर) के रूप में हैं

213.                ओम श्री साई केशव-माधव-श्रीहरि रूपाय नमः
नमस्कार

214.                ओम श्री साईं शेषनाशनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार

215.                ओम श्री साईं कोमलांगयाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनके पास निविदा रूप है

216.                श्री साईं कोटि सूर्यसुमप्रभाय नमः
नमस्कार

217.                ओम श्री साई Kovidaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, सीखा

218.                ओम श्री साई कैलासापथाय नमः सलाम श्री कैलास
के भगवान श्री साई को

219.                ओम श्री साईं कैवल्य दायिने नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो अनंत मुक्ति प्रदान करता है

220.                ओम श्री साईं खलथापा हरयाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, गंभीर पीड़ा का निवारण

221.                ओम श्री साईं खलनिग्रहाय नमः सलाम
श्री साई को, जो दुष्टों का दमन करता है

222.                ओम श्री साईं सच्चरथुतायै नमः श्री साईं को नमन
, हवाई पक्षी गरुड़ की स्तुति

223.                ओम श्री साई खेचरजना प्रियाय नमः
नमस्कार श्री साईं को, जो हवाई प्राणियों के प्रेमी हैं

224.                ओम् श्री साईं ख्याताय नमः श्री साईं को नमन
, सुप्रसिद्ध

225.                ओम श्री साईं ख्यातिप्रदायाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो एक अनुदान देता है

226.                ओम श्री साईं गनान्यगुणाय नमः प्रणाम
श्री साई को, जिनके अनगिनत गुण हैं

227.                ओम श्री साईं गणानिचारचर्यै नमः
श्री साई को नमस्कार, उत्तम चरित्र वाला

228.                ओम श्री साई गद्यपद्यप्रियाय नमः श्री साई को प्रणाम
, जो गद्य और छंदों का शौकीन है

229.                ओम श्री साईं गंगाधराय नमः सलाम
श्री साईं को, जो गंगा (भगवान शिव) पहनते हैं

230.                ओम श्री साईं गताक्षेत्राय नमः श्री साईं को प्रणाम , जो सद्गुरु
का निवास है

231.                संगीत के शौकीन श्री साई को ओम श्री साईं गणप्रियाय नमः सलाम

232.                ओम श्री साईं गीता बोधकयाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो भगवद गीता का उपदेश करता है

233.                ओम श्री साईं गीथोधरदानाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो गीता का प्रचार करता है

234.                ओम श्री साईं गिर्वाणमसेस्वयै नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनकी स्तुति से पूजा की जाती है

235.                ओम श्री साईं गुणकाराय नमः
श्री साई को नमस्कार, अच्छे गुणों का कारण

236.                ओम श्री साईं गुनाथमाने नमः प्रणाम
श्री साई को, जो गुण रखता है

237.                ओम श्री साईं गुणनिष्ठाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, गुणों से परे

238.                ओम श्री साईं गुणनिधये नमः
नमस्कार, श्री साई को गुणों का खजाना

239.                ओम श्री साईं गुणवर्धनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो योग्यता को बढ़ाता है

240.                ओम श्री साईं गुणश्रेष्ठाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, जो सबसे शानदार गुणों का अधिकारी है

241.                ओम श्री साईं गुंजनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो अच्छे गुणों की सराहना करता है

242.                ओम श्री साईं गुन्नारायणाय नमः
श्री साई को नमस्कार है, जो अच्छे गुणों का सागर है

243.                ओम् श्री साईं गुरुपराय नमः
नमस्कार, महान शिक्षक श्री साई को

244.                ओम श्री साईं गुह्ये नमः
श्री साई को रहस्यमयी नमस्कार

245.                ओम श्री साईं गुह्यै नमः
श्री साईं को नमस्कार, गुप्त अविवाहित

246.                ओम श्री साई गोविंदाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो जीवन की रक्षा करे

247.                ओम श्री साईं गोपालाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो दुनिया की रक्षा करता है

248.                ओम श्री साईं गोदावरी थेरवासिन नमः
श्री साईं को नमस्कार, गोदावरी नदी के तट पर निवास करने वाले

249.                ओम श्री साईं घनगामभिरघोसन्नयै नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो आपकी आवाज़ की गहराई से घोषणा करता है

250.                ओम श्री साईं घृणनिधये नमः
श्री साईं को करुणा का खजाना

251.                ओम श्री साईं चतुराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, चतुर

252.                ओम श्री साई Chatuhshashtikaalanidhiye नमः
श्री साई को अभिवादन, चौंसठ कला के मास्टर

253.                ओम श्री साईं चैतन्याय नमः
स्तोत्रं श्री साईं सर्वभूतानां

254.                श्री साईं को ओम श्री साईं चैत्राय नमः सलाम
, साल शुरू करने वाले (चंद्र कैलेंडर में पहला महीना)

255.                ओम श्री साईं चंद्रकला नमः
श्री साईं को नमस्कार, चन्द्रमा के प्रकाश के साथ

256.                ओम श्री साईं चंद्रशेखराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो मुकुट (भगवान शिव) के रूप में चाँद पहनते हैं

257.                ओम श्री साई चंद्रकोटि सदृशाय नमः
श्री साई को नमस्कार, 10 लाख सूर्य और चंद्रमा की शक्ति के साथ

258.                ओम श्री साईं चंचलानाशनायै नमः
स्तोत्रं श्री साईं को, अस्थिरता का नाश करने वाला

259.                ओम श्री साईं चरणाय नमः स्तोत्रं
श्री साईं को सुंदर रूप

260.                ओम श्री साई Chaarusheelaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, खुश शिष्टाचार के साथ एक

261.                ओम् श्री साईं चिदम्बराश्रय नमः
चेतना के स्वामी श्री साई को नमस्कार है

262.                ओम श्री साईं चित्तस्वरुपाय नमः
नमस्कार, श्री साई को शुद्ध चेतना का स्वरूप

263.                ओम श्री साईं चिदाभ्यासाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो मन को रोशन करता है

264.                ओम श्री साईं चिदानंदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, आनंदित

265.                ओम श्री साईं चित्तवृतीसुधकाराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, मन को शुद्ध करने वाला

266.                ओम श्री साईं चित्रावतीथत्तपुत्तपार्थी विहायरीन नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो चित्रावती नदी के तट पर स्थित पुट्टपर्थी में रहते हैं।

267.                ओम श्री साईं चिद्रुपाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो शुद्ध मन के रूप में है

268.                ओम श्री साई चिन्मयाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो शुद्ध बुद्धि रखता है

269.                श्री साईं को अमृतमयी कथा का सागर, श्री साईं चरितामृत सागराय नमः प्रणाम

270.                ओम श्री साईं च्चन्नाथ्रिगुन्यरूपाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, तीन गुणों सत्व, रजस, और तमस से आच्छादित रूप

271.                सभी पापों का नाश करने वाले श्री साईं को ओम श्री साईं चिट्ठीखिलापकाया नमः सलाम

272.                श्री साईं को ओम श्री साईं जगतपूज्यै नमः सलाम
, जिन्हें पूरी दुनिया सम्मानित करती है

273.                ओम श्री साई Jagatsrishtaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, ब्रह्मांड के निर्माता

274.                ब्रह्माण्ड के भगवान श्री साई को ओम श्री साईं जगतपतये नमः सलाम

275.                श्री साई ओम नमः Jagatrakshakaaya
श्री साई को अभिवादन, दुनिया के रक्षक

276.                ओम श्री साईं जगतप्रियाय नमः श्री साईं को प्रणाम , जो दुनिया भर में फेमस
हैं

277.                सर्वत्र साक्षी श्री साईं को ओम श्री साईं जगत्सर्काय नमः प्रणाम

278.                ओम श्री साईं जगतसेवायै नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो पूरी दुनिया द्वारा सेवा की जाती है

279.                ओम श्री साईं जगत्विभवे नमः
श्री साईं को नमस्कार, विश्व के लिए प्रकाशमान

280.                ओम श्री साईं जगदीशाय नमः
नमस्कार, श्री साईं को, दुनिया के भगवान

281.                ओम श्री साईं जगद्पादारनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो ब्रह्मांड का उत्थान करता है

282.                ओम श्री साईं जगदानंदनजकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, विश्व सुख का कारण

283.                ओम श्री साईं जगन्नाथाय नमः सलाम
श्री साईं को, जो विश्व के गुरु हैं

284.                श्री साईं को ओम श्री साईं जगन्मायाय नमः सलाम
, जिन्होंने पूरी दुनिया पर कब्जा कर लिया है

285.                श्री साईं को ओम श्री साईं जगनमोहनाय नमः
सलाम, जो सभी के लिए आकर्षक है

286.                ओम श्री साईं जय नमः
नमस्कार श्री साई को, विजेता

287.                ओम श्री साईं जयप्रदाया नमः
नमस्कार, श्री साई को, जो विजय प्रदान करता है

288.                श्री साई को ओम श्री साईं जनप्रियाय नमः
सलाम, जो सभी को पसंद आता है

289.                ओम श्री साईं जनश्रयाय नमः प्रणाम
श्री साई को, जो मानव जाति की रक्षा करता है

290.                ओम श्री साईं जनजनमनिभरणाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, मानव जन्म के चक्र को नष्ट करने वाला

291.                ओम श्री साईं जनजाद्यापहाकाराय नमः श्री साई को प्रणाम
, जो लोगों की निष्क्रियता को दूर करता है

292.                ओम श्री साईं जनार्दनयाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, भगवान जिनसे चाहने वाले उनकी मनोकामनाओं की पूर्ति के लिए प्रार्थना करते हैं

293.                ओम श्री साईं जरामरणं वरजिताय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो वृद्धावस्था और मृत्यु को पार करते हैं

294.                ओम श्री साईं जपाकुसुमसमकाशाय नमः स्तोत्रं
श्री साईं, जो जपा पुष्प (चीन) से मिलता जुलता है

295.                ओम श्री साईं जगते नमः प्रणाम
श्री साई को, ज्ञानियों को

296.                ओम श्री साईं जयतिमातभादाय भंजनाय नमः श्री साईं को नमस्कार, जो जाति या धर्म के अंतर को मिटाते
हैं

297.                ओम श्री साई Jitakleshaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, संकट के विजेता

298.                ओम श्री साईं जीवाधराय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जीवन के समर्थक

299.                ओम श्री साईं ज्योतिर्मयै नमः
श्री साईं को नमस्कार

300.                ओम् श्री साईं ज्योति प्रचोदयाय नमः
प्रणाम श्री साई को, तेजस्वी प्रकाश को

301.                ओम श्री साईं ज्योतिस्वरुपाय नमः प्रणाम
श्री साई को, उज्ज्वल प्रकाश का रूप

302.                ओम श्री साईं जोड़ीयादीपल्ली सोमप्पाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो गांव जोड़ीदीपल्ली के सोमप्पा के रूप में आया था

303.                ओम श्री साईं ताराकाशस्त्र पंडितायै नमः श्री साईं को प्रणाम
, तर्कशास्त्र के सिद्धांत में विद्वान

304.                श्री साईं को ओम श्री साईं तत्पराय नमः प्रणाम
, सर्वनाम ‘TAT’ से निरूपित

305.                ओम श्री साईं तपोमायाय न

306.                ओम श्री साईं तपोरुपाय नमःup
श्री साईं को तपस्या का स्वरूप

307.                ओम श्री साईं तपोनिधये नमः श्री साईं को तपस्या
का खजाना

308.                ओम श्री साईं तपोवनप्रदायताय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो तपस्या के लिए स्थान देता है

309.                ओम श्री साईं तातपरायणिरुक्ताय नमः श्री साईं को नमस्कार है, जो सभी 3 प्रकार के संकटों से मुक्ति दिला
सकता है

310.                ओम श्री साईं तपसह्रीदवासिने नमः
श्री साईं को नमस्कार, तपस्वियों के दिलों में बसने वाला

311.                ओम श्री साईं तारकास्वरुपाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, वह जो बचावकर्ता के रूप में आता है

312.                ओम श्री साईं ताड़का मंत्राय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो भजन के रूप में है जो हमें इस शब्दमय अस्तित्व को पार करने में मदद करता है

313.                ओम श्री साईं तीर्थाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो पवित्र मार्ग है

314.                ओम श्री साई Thivraaya नमः
श्री साई को अभिवादन, जो मजबूत है

315.                ओम श्री साईं श्रीक्षणाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो तेज है

316.                श्री साईं को ओम श्री साईं त्रिकालज्ञाय नमः सलाम
, जो हमारे भूत, वर्तमान और भविष्य को जानता है

317.                Om Sri Sai Trigunaatmakaaya Namah,
ओम श्री साईं तृप्तायै नमः
श्री साईं को नमस्कार, आत्म संतुष्ट

318.                ओम श्री साईं त्रिमूर्तिाय नमः प्रणाम
श्री साई को, जो तीन देवताओं (ब्रह्मा, विष्णु और महेश्वरा) के रूप में है

319.                ओम श्री साईं त्रयमायाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, 3 वेदों का रूप

320.                श्री साईं को ओम श्री साईं त्रिलोकात्मने नमः सलाम
, जो सभी 3 दुनिया की आत्मा हैं

321.                ओम श्री साईं त्रिलोकनिरुद्धगतायै नमः श्री साईं को नमस्कार, जो तीनों लोकों में विनीत होकर
चलते हैं

322.                ओम श्री साईं त्रैलोक्य नाथाय नमःations श्री साईं को प्रणाम, तीनों लोकों
के स्वामी

323.                ओम श्री साईं तेजोमयै नमः स्तोत्रं श्रीं
साईं

324.                ओम श्री साईं तेजस्वरुपाय नमः
नमस्कार, श्री साई को शोभा का स्वरूप

325.                ओम् श्री साईं तेजोमुत्राय नमः सालुतेस्तो
श्री साईं, सूर्य देवता

326.                श्री साई को ओम श्री साईं त्रिविक्रमाय नमः सलाम
, जिन्होंने 3 दुनियाओं को 3 चरणों में वामाण के रूप में मापा

327.                ओम श्री साईं त्यागराजाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, महान बलिदानी को

328.                ओम श्री साईं दत्तात्रेयै नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो दत्तात्रेय का रूप है (3 देवताओं ब्रह्मा, विष्णु और शिव का अवतार)

329.                ओम श्री साईं दर्शनाय नमः
सलाम श्री साईं को, देखने के योग्य

330.                ओम श्री साईं दयापराय नमः
श्री साईं को नमस्कार

331.                ओम श्री साई दयासागरराय नमः
श्री साईं को दया का सागर

332.                ओम श्री साईं दया निधये नमः
श्री साई को खजाना, दया का खजाना

333.                ओम श्री साईं दरपना शोभिताय नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनकी सुंदर आँखें हैं

334.                उदार दाता श्री साई को ओम श्री साईं दानशिल्यै नमः सलाम

335.                ओम श्री साईं दानशूर्यै नमः
श्री साईं को नमस्कार, महान उपहार देने वाले

336.                ओम श्री साईं दानप्रियाय नमः प्रणाम
श्री साई को, जो दान के शौकीन हैं

337.                ओम श्री साईं दान धर्मपराय नमः श्री साई को प्रणाम
, जो धार्मिकता और दान पर आधारित है

338.                भगवान श्रीकृष्ण के रूप श्री साईं को ओम श्री साईं दामोदराय नमः सलाम

339.                ओम श्री साईं दिगंबराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, उनके वस्त्र (भगवान शिव) के रूप में आकाश (ब्रह्मांड)

340.                ओम श्री साईं दिव्यजनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जिन्हें दिव्य ज्ञान है

341.                ओम श्री साईं दिव्यरूपाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो एक दिव्यता है

342.                ओम श्री साईं दिव्यसुन्दराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, दिव्य सौंदर्य

343.                ओम श्री साईं दिव्यै नमः शिवाय
श्री साईं को नमस्कार

344.                स्वर्ग के भगवान श्री साई को ओम श्री साईं दिव्यसापदाये नमः प्रणाम

345.                ओम श्री साईं दीनदयालवे नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो कमजोरों के प्रति दयालु है

346.                ओम श्री साईं दीनबंधुवे नमः
व्यथित के सहयोगी श्री साई को नमस्कार

347.                ओम श्री साईं दीनजना पोषनाय नमः
व्यथित के संरक्षक श्री साई को नमस्कार

348.                ओम श्री साईं दीनसंतपनाशनाय नमः
नमस्कार श्री साईं को, दुखियों के दुखों का नाश करने वाले

349.                ओम श्री साईं दीनपलाकाय नमः
नमस्कार श्री साईं को, गरीबों के संरक्षक

350.                ओम् श्री साईं दीनोद्धारनाय नमः श्री साईं को नमस्कार, जो खंडहरों का
उत्थान करते हैं

351.                ओम श्री साईं देवगृहत्रयै नमः श्री साईं को नमन , सभी को समाविष्ट

352.                ओम श्री साईं दीर्गे द्रष्टये नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो आगे बहुत दूर तक देख सकता है

353.                ओम श्री साईं दीप्ताय नमः
श्री साईं को नमस्कार, उज्ज्वल

354.                दुःख का नाश करने वाले श्री साईं को ओम श्री साईं दुःशमनाय नमः सलाम

355.                ओम श्री साई Duraadharshaaya नमः
श्री साई, अजेय को अभिवादन

356.                ओम श्री साईं दुःत्जनोदराधनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो दुष्टों का उत्थान कर सकता है

357.                ओम श्री साईं द्रविद्रताय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो दृढ़ इच्छा शक्ति (दृढ़, दृढ़, दृढ़) है

358.                ओम श्री साईं देविनुष्ठाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जिनकी देवताओं द्वारा स्तुति की जाती है

359.                ओम श्री साईं देवपरातारपराय नमः
नमस्कार, श्री साई को, सबसे शक्तिशाली देवताओं में

360.                सभी देवताओं के देवता श्री साई को ओम श्री साईं देवदेवाय नमः सलाम

361.                ओम श्री साईं द्विजनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो भाग्य को जानता है

362.                ओम श्री साईं दैत्यहरिण्यै नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो राक्षसों को मारता है

363.                द्वारकामयी निवासी श्री साई को ओम श्री साईं द्वारकामायैवासिणे नमः

364.                ओम श्री साईं दशनिवनारायणाय नमः स्तोत्रं
श्री साईं

365.                ओम श्री साईं धनपतये नमः
नमस्कार श्री साईं को धन के राजा

366.                ओम श्री साईं धनमंगला दायकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, वह जो धन और कल्याण प्रदान करता है

367.                ओम श्री साईं धनधान्यदायकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो धन और धान्य प्रदान करता है

368.                ओम श्री साईं धनधान्यक्षाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो खजानों की देखरेख करता है

369.                ओम श्री साईं धनाय नमः स्तोत्रं
श्री साईं को आत्म संतुष्ट

370.                ओम श्री साईं धर्माचार्ये नमः
नमस्कार

371.                ओम श्री साईं धर्मतपराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो धार्मिकता पर आसीन हैं

372.                धर्म के रक्षक श्री साई को ओम श्री साई धर्मपशोकाय नमः सलाम

373.                ओम श्री साईं धर्मस्तपनाय नमः
सलाम श्री साई को, धार्मिकता के संरक्षक

374.                श्री साईं धर्मशास्त्रीराजनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, नैतिक संहिता के सिद्धांत के विद्वान

375.                ओम श्री साईं धर्महेतवे नमः सलाम
, श्री साई को धर्म पथ का कारण

376.                श्री साईं को ओम श्री साईं धर्मकृते नमः
प्रणाम

377.                ओम श्री साई धर्मेश्वराय नमः
सलाम श्री साईं को, धार्मिकता के भगवान

378.                पृथ्वी के आधार श्री साईं को ओम श्री साईं धराधराय नमः सलाम

379.                ओम श्री साईं नताशयाय नमः सलाम
मुख्य अभिनेता श्री साई को

380.                ओम श्री साईं नयभयलेलायै नमः श्री साईं को प्रणाम
, सुशोभित, भयभीत और विवेकपूर्ण

381.                ओम श्री साईं नरकाविनाशनाय नमः
श्री साईं को नरक का नाश करने वाले को नमस्कार

382.                ओम श्री साईं नारनारायणाय नमः सलाम
श्री साई को, परम स्व और सर्व व्यापी को

383.                Om Sri Sai Narasimhaaya Namah
Salutations to Sri Sai, the Lord Narasimha (man-lion body)

384.                ओम श्री साईं नवनीत नताया नमः सलाम
श्री साई को, युवा अभिनेता

385.                ओम श्री साईं नवनीतविग्रहाय नमः
श्री साईं को युवा रूप

386.                ओम श्री साईं नादबिंदुवे नमः
को ध्वनि की उत्पत्ति, श्री साई को नमस्कार

387.                ओम श्री साईं नादस्वरुपाय नमः
नमस्कार, श्री साईं को ध्वनि का स्वरुप

388.                ओम श्री साईं नादानंदाय नमः
की ध्वनि से गूंजने वाले श्री साईं को नमस्कार

389.                ओम श्री साईं नावदातपराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो ध्वनि में विलीन हो जाते हैं

390.                ओम श्री साई Naagashaayine नमः
श्री साई को अभिवादन, सांप पर एक आराम

391.                ओम श्री साईं नानारूपाय नमः the श्री साईं
को नमस्कार, विविध रूपों वाला एक

392.                ओम श्री साईं नानाभाशाविदग्धाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो कई भाषाओं को जानता है

393.                ओम श्री साईं नानाशस्त्रपंडिताय नमः
नमस्कार, श्री साईं को, कई विज्ञानों में विद्वान

394.                ओम श्री साईं नानाशस्त्रविदग्धाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो कई शास्त्रों को जानता है

395.                ओम श्री साई नानकक्षेत्रे वासने नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो विभिन्न स्थानों में निवास करते हैं

396.                भगवान श्री के पवित्र नामों के संरक्षण में लगे ओम श्री साईं नरामक्षपरायणाय नमः
श्री साईं को नमस्कार

397.                ओम श्री साईं नारदीयभक्ति बोधकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो भक्ति के बारे में प्रचार करता है

398.                ओम श्री साईं निगमास्तुत्यै नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनकी स्तुति वेदों में की गई है

399.                ओम श्री साईं निर्गुणाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जिसकी कोई विशेषता नहीं है

400.                ओम श्री साईं निर्जलाय नमः श्री साईं को नमस्कार है, जो नीरसता
से रहित है

401.                ओम श्री साईं नित्यरंजनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है

402.                ओम श्री साईं नित्यसुधाय नमः प्रणाम
श्री साई को, सदा शुद्ध

403.                ओम श्री साईं नित्यानंदाय नमः सलाम
, श्री साई को, सदा प्रसन्नता से

404.                श्रीं श्रीं साईं निठ्यपुष्तायै नमः स्तोत्रं
श्री साईं को सदा बलवान्

405.                ओम श्री साईं नित्यवाहिताय नमः प्रणाम
श्री साई को, कभी गौरवशाली

406.                श्री साईं को ओम श्री साईं नित्योत्सव y नमः शिवाय
नमस्कार

407.                श्री साईं को ओम श्री साईं निभानानाय नमः
नमस्कार

408.                ओम श्री साईं निर्वेदाय नमः सलाम
श्री साईं को, अविश्मरणीय

409.                ओम श्री साईं निरंजनाय नमः
श्री साईं को निष्कलंक नमन

410.                ओम श्री साईं निरहंकाराय नमः
श्री साईं को नमस्कार

411.                ओम श्री साईं निराकाराय नमः
श्री साईं को निराकार को नमस्कार

412.                ओम श्री साईं निरमायाय नमः सलाम
श्री साई को, बीमारी से मुक्त

413.                ओम श्री साईं निराश्रयाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो किसी एक पर निर्भर नहीं है

414.                ओम श्री साईं निरालांबाय नमः प्रणाम
श्री साई को, स्वयंभू समर्थकों ने

 

415.                ओम श्री साईं निर्मलाय नमः सालुतस्तु
श्री साईं, पवित्रता का भाव

416.                ओम श्री साईं निश्चलतमकाय नमः
स्तोत्रं श्री साईं को स्थिर आत्मा वाला

417.                ओम श्री साईं निश्चलतात्वै नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो समभाव के सिद्धांत का अवतार है

418.                ओम श्री साईं निर्विकाराय नमः श्री साईं को अचिन्त्य
नमस्कार

419.                ओम श्री साईं निर्विकल्पाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, बदलते विचारों से रहित

420.                ओम श्री साईं निसंगाय नमः शिवाय को श्री साईं को नमन

421.                ओम श्री साईं नृत्यालयोलाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो नृत्य पसंद करते हैं

422.

423.                ओम श्री साईं नायकरूपाय नमः श्री साईं को नमन
, कई बार

424.                ओम श्री साईं नित्यदेहभिसंचारिने नमः
श्री साई को नमस्कार, जो अपने शरीर से अलग हो सकता है

425.                ओम श्री साईं नीलाकांताय नमः
श्री साईं को नमन, जिनकी गर्दन नीले रंग की है

426.                ओम श्री साईं नीलाय नमः
नमस्कार श्री साई को, जो गहरे रंग का है

427.                ओम श्री साईं नीलाजाक्षाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनकी आंखें नीले रंग की हैं

428.                गहरे नीले बादलों के रंग वाले श्री साई को ओम श्री साईं नीलमेघश्यामलाय नमः सलाम

429.                श्री साईं नेत्रानंदभारतीर्थाय नमः प्रणाम
श्री साई को, जो आंखों में खुशी भर देता है

430.                ओम श्री साईं पार्थिवहारायै नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो पुट्टपर्थी में चलते हैं

431.                ओम श्री साईं पार्थिगरामभवाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो पुट्टपर्थी गाँव में जन्मे हैं

432.                ओम श्री साईं पार्थिपुरेशाय नमः नमस्कार श्री साई को, जो पार्थी
गांव के भगवान हैं

433.                ओम श्री साईं पार्थिकशत्रिनिवासिने नमः प्रणाम श्री साई को, जो पार्थी के
निवासी हैं

434.                ओम् श्री साईं पथिष्ठपावनाय नमः श्री साईं को नमस्कार है, जो अपंगों
को शुद्ध करता है

435.                श्री साईं को ओम श्री साई पद्मदलनेत्राय नमः
नमस्कार, जिनकी आंखें कमल की पंखुड़ियों की तरह हैं

436.                श्री साई को पद्मनाभाय नमः
नमस्कार, नाभि (भगवान विष्णु) में कमल है

437.                विद्वानों के विद्वान श्री साई को ओम श्री साई पंडितपंडितायै नमः
नमस्कार

438.                ओम श्री साईं पंकजनानाय नमः प्रणाम
श्री साई को, कमल का सामना करना पड़ा

439.                ओम् श्री साईं पशुपतिाय नमः
प्रणाम श्री साईं को, जो जीवों के स्वामी हैं

440.                परम पूज्य श्री साईं को ओम श्री साईं परब्रह्मण्यै नमः
सलाम

441.                परम पूज्य श्री साईं को परम श्री परमात्मने नमः
सलाम

442.                परम पूज्य श्री साईं को श्री श्री परमेश्वराय नमः
सलाम

443.                ओम साईं साईं परब्रह्मस्वरुपाय नमः
नमस्कार, श्री साई को सार्वभौमिक आत्मा का रूप

444.                ओम श्री साईं परमिश्वार्यकारायणाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, परम धन का कारण

445.                श्रीं श्री साईं परमानंदमूर्तये नमःations श्री साईं को, परम
सुख का स्वरूप

446.                ओम श्री साईं परमार्थाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो सबसे ज्यादा सत्य है

447.                ओम श्री साईं परोपकाराय नमः प्रणाम श्री साई को, जो प्रकाश का पुंज हैं

448.                श्री साईं पराहिताय नमः नमस्कार, श्री साईं को प्रणाम

449.

450.                ओम साई साई Paraatparaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, जो दोनों दूरस्थ और आसन्न है

451.                ओम श्री साईं पराशक्तिप्रतिग्रहाय नमः श्री साई को नमस्कार, जो सर्वोच्च ऊर्जा से आच्छादित है

452.                ओम श्री साईं परंज्योतिषे नमः प्रणाम
श्री साई को, सबसे शानदार प्रकाश

453.                Om Sri Sai Paripaalakaaya Namah
Salutations to Sri Sai, the guardian

454.                ओम श्री साईं पारोक्षप्रियाय नमः 503: श्री साई को प्रणाम
, जिन्हें रहस्यवादी पसंद करते हैं

455.                ओम श्री साईं परोपकारायतपराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो दान का पालन करते हैं

456.                ओम श्री साईं पवित्रराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सदा शुद्ध

457.                ओम श्री साईं पंचाक्षराय नमः
को पांच अक्षरों का भगवान श्री साई को नमस्कार है (नामाशिवाभगवान शिव)

458.                ओम श्री साईं पापविदुराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, पापों को दूर करने वाला

459.                ओम श्री साईं पापहरणाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, पापों का नाश करने वाला

460.                ओम श्री साईं पावन्याय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो हर चीज को शुद्ध करता है

461.                ओम श्री साईं पांडुरंगाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो पांडुरंगा के रूप में हैं

462.                ओम श्री साई पिंगलाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, पिंगला नाड़ी का स्वरूप

463.                कष्टों का नाश करने वाले श्री साईं को ओम श्री साईं पापादिपैरहरिने नमः

464.

465.                ओम श्री साई पुरुषोत्तमाय नमः
प्रणाम श्री साईं को, महान व्यक्ति को

466.                ओम श्री साई पुरोगामयै नमः
श्री साईं को नमस्कार, सबसे आगे

467.                ओम श्री साईं पुट्टपर्थी शापविमोचाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जिन्होंने शाप से पुट्टपर्थी को मुक्त किया

468.                ओम श्री साई पुट्टपर्थी फलसुप्ताय नमः श्री साईं को नमस्कार, जो पुट्टपर्थी में समृद्धि का फल
देता है

469.                ओम श्री साई Punyaaya नमः
श्री साई, मेधावी को अभिवादन

470.                श्री साईं को पुण्यकृते नमः
नमस्कार, जो मेधावी कर्म करता है

471.                ओम श्री साईं पुण्यपुरुषाय नमः श्री साई को शुभ कामनाएँ

472.                ओम श्री साईं पुण्यफलप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो मेधावी कार्यों के लिए सुखद परिणाम देता है

473.                ओम श्री साईं पुण्यवर्धनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो योग्यता को बढ़ाते हैं

474.                ओम श्री साईं पुण्यश्रवनकीर्तनाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो केवल शुभ मुहूर्त में बात करते हैं और सुनते हैं

475.                ओम श्री साईं पुन्यपरायणाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो अच्छे कार्यों का लक्ष्य है

476.                ओम श्री साई पुलकभूषणाय नमः श्री साई को नमस्कार, जो आनंद के रोमांच से सराबोर है

477.                ओम श्री साईं पुण्डरीकाक्षाय नमः
प्रणाम श्री साई को, कमल को नमन

478.                ओम श्री साई Purnaaya नमः
श्री साई, सही करने के लिए अभिवादन

479.                ओम श्री साईं पूर्णबोधाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो पूर्णता का उपदेश देता है

480.                ओम श्री साईं पूजयाय नमः
श्री साईं को नमस्कार

481.                श्रीं श्रीं साईं प्रचोदयात्ने नमः
प्रणाम श्री साईं को, स्वयं प्रकाशमान

482.                श्री साईं को ओम श्री साईं प्रग्रहाय नमः सलाम
, जो भक्ति के साथ दिए गए प्रसाद को स्वीकार करता है

483.                ओम श्री साईं प्रणवाय नमः सलाम
श्री साई को, पवित्र अक्षरओम्

484.                ओम श्री साईं प्रणवनाथाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, पवित्र शब्दओमका स्वामी

485.                ओम श्री साई प्रणवस्वरुपाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, पवित्र शब्दओम्का स्वरूप

486.                श्री साईं को प्रणामानंदाय नमः
नमस्कार, पवित्र शब्दओमका आनंद

487.                ओम श्री साईं प्रणतारथ्यैराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो संकट का रोना नष्ट कर दे

488.                ओम श्री साईं प्रशांतायै नमः
श्री साईं को नमस्कार

489.                ओम श्री साईं प्रशांतामहंसाय नमः श्री साईं को नमन
, शांत मन से

490.                ओम श्री साईं प्रशांताक्षाय नमः सलाम
श्री साई को, जो शांति की रक्षा करता है

491.                प्रशांति निलयम (शांति का वास) निवासी श्री साई को ओम श्री साईं प्रशांतिनिलायवासिने नमः
सलाम

492.                ओम श्री साईं प्रशांतिनीलाय नमः शिवाय
श्री साईं को नमस्कार, प्रशांति निलयम का निर्माण करने वाले

493.                ओम श्री साईं प्रणमामुखाय नमः प्रणाम
श्री साई को, उज्ज्वल का सामना करना पड़ा

494.

495.                ओम श्री साईं प्रसन्नार्थराय नमः
श्री साई को दुखों का नाश करने वाले को नमस्कार

496.                ओम श्री साई Prasarithahastha Sarvasaamagraye नमः
अभिवादन श्री साई, अनुदान के सभी लेख के साथ outstreched हाथों से एक के लिए

497.

498.                ओम श्री साईं प्राणाय नमः श्री साईं को जीवन की बहुतबहुत शुभकामनाएँ

499.                ओम श्री साईं प्राणदाय नमः
नमस्कार, जीवन के दाता श्री साई को

500.                श्रीं श्री साईं प्रजनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार

501.                ओम श्री साईं प्रियाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो सभी को प्रिय है

502.                ओम श्री साईं प्रियदर्शनाय नमः
श्री साई को नमस्कार है, जिन्हें देखना सुखद है

503.                ओम श्री साईं प्रीतिवर्धनाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जिससे प्रेम बढ़ता है

504.                ओम श्री साईं प्रेमप्रदाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, प्रेम की प्रेरणा

505.                ओम श्री साईं प्रेममूर्तिाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, प्रेम का अवतार

506.                ओम श्री साईं प्रेमस्वरुपाय नमः श्री साईं को प्रणाम , प्रेम का सूत्र

507.                स्नेहमयी आत्मा को श्री श्री साईं प्रेतात्मने नमः सलाम

508.                ओम श्री साईं प्रेमा साईंनाथावतार प्रथजनाय नमः श्री साई को प्रणाम
, जिन्होंने प्रेमा साईं के अवतार लेने का वादा किया है

509.                ओम श्री साईं बंदविमोचनाय नमः सलाम
श्री साई को, जो बंधन से मुक्त करता है

510.                अनिष्ट शक्ति का नाश करने वाले श्री साई को ओम श्री साईं बलरामनाथाय नमः सलाम

511.                ओम श्री साईं बालिशताय नमः प्रणाम
श्री साई को, सबसे शक्तिशाली

512.                ओम श्री साईं बहुरूपविश्वमूर्तये नमः श्री साईं को नमन
, विविध रूपों से प्रकट

513.                ओम श्री साई बिंदुवासिने नमः प्रणाम श्री साई को, जो एक परमाणु के अविजित हैं

514.                ओम श्री साईं बिजयै नमः सलाम
को श्री साई, को मूल

515.                ओम श्री साईं ब्रह्मविवर्धनाय नमः
को श्री साई को नमस्कार है, जो पवित्र ज्ञान को बढ़ाते हैं

516.                ओम श्री साईं ब्रह्मचारिणे नमः
श्री साईं को नमस्कार

517.                ओम श्री साईं ब्रह्मानंदाय नमः स्तोत्रं
श्री साईं को परम सुख

518.                ओम साईं श्री ब्रह्मेश्वरनिषुरूपाय नमः श्री साई को प्रणाम
, निर्माता, रक्षक और ट्रांसफार्मर का रूप

519.                पवित्र ज्ञान के प्रशिक्षक श्री साई को ओम श्री ब्रह्मोपदेशक नमः प्रणाम

520.                ओम श्री साई Brihathe नमः
श्री साई को अभिवादन, सबसे बड़ी

521.                ओम श्री साईं बृहत्कथिधनुरधराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, प्रचुर शक्ति वाला धनुर्धर

522.                श्री साईं को ओम श्री साईं ब्रह्मणप्रियाय नमः
सलाम, जो ब्रह्म के चाहने वालों को पसंद है

523.                ओम श्री साईं भक्तवत्सलाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो उनके भक्तों के प्रति दयालु हैं

524.                ओम श्री साईं भक्तमण्डाराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो भक्तों को मंदार के फूल के समान है

525.                ओम श्री साईं भक्तजनानलोलाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो भक्तों को पसंद आते हैं

526.                श्री साईं भक्तजनहृदयविहारिने नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो भक्तों के दिल में घूमते हैं

527.                ओम श्री साईं भक्तहृदवासिने नमः
श्री साईं को भक्तों के हृदय में निवास करने वाली

528.                ओम श्री साईं भक्तजनहृदयालय नमः श्री साईं को प्रणाम , जिनके निवास में भक्तों का दिल लगा रहता है

529.                ओम श्री साईं भक्तपरवाहिन्यै नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो भक्तों पर निर्भर है

530.                ओम श्री साईं भक्तसुप्रियाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो भक्तों को बहुत प्रिय है

531.                ओम श्री साईं भक्तोद्र्धननिग्रहचन्द्राय नमः
श्री साईं को नमस्कार, भक्तों के संकट में रोने का नाश करने वाला

532.                ओम श्री साईं भक्तशक्तिप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, भक्तों को बल देने वाला

533.                ओम श्री साईं भक्तिमुक्तिप्रदाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो भक्तों को मुक्ति प्रदान करता है

534.                भक्तों की मनोकामना पूरी करने वाले श्री साई को श्री साईं भक्तभिश्तदायिकाय नमः सलाम

535.                ओम श्री साईं भक्तभिसर्वताराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, भक्तों द्वारा इच्छित वरदान देने वाले

536.                ओम श्री साईं भक्तभिश्तदेवतामूर्तये नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो भक्तों द्वारा वांछित रूप में प्रकट होते हैं

537.                ओम श्री साईं भक्तानुग्रहमूर्तियै नमः
श्री साईं को नमस्कार, भगवान जो भक्तों पर कृपा करते हैं

538.                ओम श्री साईं भक्तवनासमर्थाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो अपने भक्तों को संतुष्ट करने में सक्षम है

539.                ओम श्री साईं भक्तवनप्रतिज्ञाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जिन्होंने अपने भक्तों की रक्षा की शपथ ली है

540.                ओम श्री साईं भक्तभिश्तकापयामाप्रपादाय नमः श्री साईं को नमस्कार, जो अपने भक्तों द्वारा मनोवांछित फल
देता है

541.                श्री साईं भक्तिजननाप्रदाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो भक्ति और ज्ञान देता है

542.                श्री साईं भक्तिजननाप्रदीपाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो भक्ति और ज्ञान का ज्ञान देता है

543.                ओम श्री साईं भगवते नमः
श्री साईं को नमस्कार

544.                ओम श्री साईं भवनाशनाय नमः श्री साईं को जन्म और मृत्यु के शब्द टाई के संहारक

545.                ओम श्री साईं भवनादायकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, वह जो निवास स्थान को अनुदान देता है

546.                सांसारिक रोगों का नाश करने वाले श्री साईं को ओम श्री साईं भवोरोगराय नमः सलाम

547.                ओम श्री साईं भवबन्धविमोचनाय नमः प्रणाम श्री साई को, शब्द बंधनों से मुक्ति
देने वाला

548.                ओम श्री साईं भवतापहाराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, दुनिया के कष्टों का निवारण

549.                श्री साईं भवभय भंजनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो दुनिया का डर दूर करता है

550.                ओम श्री साईं भयहाराय नमः आश्रितों
का नाश करने वाले श्री साई को नमस्कार

551.                ओम श्री साई भस्मदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो पवित्र राख देता है

552.                श्री साईं को भस्मवीरवीरभाव हस्ताय नमः
नमस्कार, जो उनके हाथ से पवित्र राख बनाता है

553.                ओम श्री साईं भस्मादित्यविग्रहाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो पवित्र राख से आच्छादित हैं

554.                ओम श्री साईं भस्माधुलिताथ सर्वज्ञाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनका शरीर पूरी तरह से पवित्र राख से ढका हुआ है

555.                ओम श्री साईं भारद्वाज ऋषिगोत्राय नमः श्री साई को प्रणाम
, जो भारद्वाज के परिवार में पैदा हुए हैं

 

556.                ओम श्री साईं भग्यवर्धनाय नमः
को श्री साईं को नमस्कार है, जो समृद्धि को बढ़ा सकता है

557.                ओम श्री साईं भवाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, शुद्ध अस्तित्व का स्वरूप

558.                ओम श्री साईं भास्कराय नमः
सूर्य भगवान को श्री साई को नमस्कार

559.                ओम श्री साईं भीष्मग्वाराय नमः
नमस्कार श्री साईं को श्रेष्ठ चिकित्सक

560.                ब्रह्माण्ड के भगवान श्री साई को ओम श्री साईं भुवनेश्वराय नमः
सलाम

561.                ओम श्री साईं भक्ति मुक्ति स्वर्गापवर्ग दैयका नमः
श्री साईं को नमस्कार, भक्ति, मुक्ति और स्वर्गिक सुख देने वाले

562.                सभी प्राणियों के निवास स्थान श्री साईं को ओम श्री साईं भुतावासाय नमः सलाम

563.                ओम श्री साईं भूतभावीश्च भाववृजिताय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो अतीत और भविष्य की अवस्थाओं से रहित है

564.                ओम श्री साईं ब्रजनिष्णवे नमः
श्री साईं को नमस्कार, शानदार

565.                ओम श्री साईं भ्रातनिनाशनाय नमः
नमस्कार, श्री साई को भ्रम का नाश करने वाला

566.                ओम श्री साई भोज्यप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, भोग की वस्तु देने वाले

567.                ओम श्री साईं मकररूपाय नमः श्री साईं को नमस्कार, Mak म
का रूप

 

568.                ओम श्री साईं मधुराया नमः
श्री साईं को नमस्कार, सुखद

569.                ओम श्री साईं मधुवचनाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो मधुर बोलता है

570.                सांसारिक सुखों का नाश करने वाले श्री साई को ओम श्री साई मधुसूदनाय नमः
सलाम

571.                ओम श्री साईं मनोहराय नमः
सलाम श्री साई को, जो हमारा दिल चुराता है

572.                ओम श्री साईं मनोरथपालप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो दिल की इच्छा का फल देता है

573.                ओम श्री साईं मनोवागतपत्राय नमः प्रणाम
श्री साई को, जो विचार और वचन से परे है

574.                ओम साईं श्री साईं मंदसमितिप्रभाकराय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो अपनी कोमल मुस्कान के साथ आत्मज्ञान करते हैं

575.                ओम श्री साईं मन्धवासवनाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनके चेहरे पर कोमल मुस्कान है

576.                ओम् श्री साईं मनमथारूपाय नमः शिवाय
श्री साईं को प्रेममय रूप

577.                ओम साईं श्री साईं मन्त्रांतरीश्वरदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो पवित्र भजनों और रहस्यपूर्ण सूत्रों के सिद्धांत में पारंगत हैं

578.                वैदिक भजन और जादू के सूत्र पचाने वाले श्री साई को ओम श्री साईं मंत्रतन्त्रविदग्धाय नमः सलाम

579.                ओम श्री साईं मंत्रासराय नमः श्री साईं को प्रणाम
, पवित्र भजनों का सार

580.                ओम श्री साईं मंत्राय नमः स्तोत्रं श्री साईं
को नमस्कार

581.                ओम श्री साईं महाते नमः सलाम
श्री साई को, महान

582.                ओम श्री साईं महानिगुणात्मने नमः
को श्री साई को नमस्कार है, जो गौरवशाली गुणों से संपन्न है

583.

584.                ओम श्री साईं महाकर्माय नमः प्रणाम
श्री साईं को, महान सिद्धांत

585.                ओम श्री साईं महातेजस्विने नमः प्रणाम
श्री साई को, सबसे शानदार

586.                ओम श्री साईं महाशक्तये नमः प्रणाम श्री साई को, जिनकी क्षमता अखंड
है

587.                ओम श्री साईं महानिधये नमः
श्री साईं को नमस्कार, महान खजाना

588.                ओम श्री साईं महिमामने नमः
श्री साईं को नमस्कार, राजसी

 

589.                ओम
साईं, माता, पिता या शिक्षक का रूप

590.                ओम श्री साईं मत्सरीनाशकाय नमः सलाम
श्री साई को, ईर्ष्या का नाश करने वाला

591.                श्री साईं को श्रीगुरुबंधुवे नमः
नमस्कार, यात्रा में साथी (जीवन के)

592.                ओम श्री साईं महाधवत्वरुपाय नमः
नमस्कार, श्री साई को, कृष्ण के वैयक्तिक सिद्धांत

593.                ओम श्री साईं मनतवत्वरुपाय नमः नमस्कार, श्री साईं को मानवता के वैयक्तिक
सिद्धांत

594.                ओम श्री साईं मद्देवाय नमः
श्री साईं को भगवान का प्रणाम

595.                आत्म सम्मान के रक्षक श्री साई को ओम श्री साईं मनामस्मृक्षाय नमः सलाम

596.                ओम श्री साईं मन्नै नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो पूजा के योग्य हो

597.                साई नमः ओम में श्री Maayaatheethaaya
साई में श्री के लिए अभिवादन, हाँ, ओह है माया से परे है

598.                ओम श्री साईं महायारितायै नमः श्री साईं को नमस्कार, बिना असत्य
के एक

599.                ओम श्री साईं मयनाशनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, विध्वंसक का नाश

600.                ओम श्री साईं मैयाविमोचनाय नमः सलाम श्री साई को, जो माया (भ्रम) से मुक्ति दिलाता है

601.                ओम श्री साईं महामायानुशारुपाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जिसने इंसान का रूप धारण कर लिया है

602.                ओम श्री साई Maarajanakaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, प्यार के निर्माता

603.                ओम श्री साईं मुनप्रियाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो तपस्वियों को पसंद करते हैं

604.                ओम श्री साईं मुनिजनसेविताय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जिन्हें ऋषियों द्वारा सेवा दी जाती है

605.                ओम श्री साईं मुक्तिप्रदाय नमः
श्री साई को नमस्कार है, जो मुक्ति प्रदान करता है

606.                ओम श्री साईं मृथिथ्रेस्वरुपाय नमः
को श्री साईं को नमस्कार, त्रिमूर्ति का रूप (सृजन, संरक्षण और परिवर्तन का देवता)

607.                ओम श्री साईं मूलाधाराय नमः प्रणाम
, श्री साईं को मूल सिद्धांत

608.                ओम श्री साईं मूलप्रकाशाय नमः
श्री साईं को मूल स्वभाव को नमस्कार

609.                श्री साईं को श्री श्री मृगप्रियाय नमः प्रणाम
, जो हिरण (जानवरों) को पसंद करते हैं

610.                ओम श्री साईं मृत्युंजयाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो मृत्यु को जीत सकता है

611.                ओम श्री साईं मोहनाशनाय नमः
नमस्कार, श्री साई को नमस्कार

612.                ओम श्री साई मोक्षदायकाय नमः प्रणाम
श्री साई को, जो मोक्ष देता है

613.                ओम श्री साई मंगलाप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो आनंद प्रदान करता है

614.                ओम श्री साईं मंगलदायकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो सुख का कारण बनता है

615.                ओम श्री साईं मंगलसूत्रदायकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो विवाह सूत्र प्रदान करता है

616.                ओम श्री साईं यशः नमः
श्री साईं को नमस्कार, सफलता का अवतार

617.                ओम श्री साईं यशस्विने नमः सलाम
, श्री साई को, भव्य

 

618.                ओम श्री साईं यामाशिक्षानिर्वाहनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, वह जो दंड को दूर कर सकता है

619.                श्री साई को यमुना नदी के तट पर ले जाने वाले श्री साई को यमुनाथिराविहारिन नमः सलाम

620.                ओम श्री साईं यक्षिण्नाग्निगन्धर्व स्तुत्यै नमः
श्री साईं को नमस्कार, जिनकी स्तुति यक्षों, किन्नरों और गन्धर्वों (खगोलीय प्राणियों) द्वारा की जाती है।

621.                ओम श्री साईं यज्ञेश्वराय नमः सलाम
, बलिदानों के भगवान श्री साई को

622.                ओम श्री साईं यज्ञोपचारत्रे नमः प्रणाम
श्री साईं को, यज्ञ के स्वामी

623.                ओम श्री साई Yajnapurushaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, बलिदानों के मास्टर

624.                ओम श्री साईं यज्ञसम्राक्षाय नमः प्रणाम
श्री साई को, बलिदानों के रक्षक

625.                योग का खजाना श्री साई को ओम श्री साईं योगनिधये नमः

 

626.                कल्याण के रक्षक श्री साई को ओम श्री साईं योगक्षेमपहाय नमः सलाम

627.                सभी योगियों के भगवान श्री साई को ओम श्री साईं योगीश्वराय नमः सलाम

628.                ओम श्री साईं योगिश्वरवंदितायै नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो संतों द्वारा पूजे जाते हैं

629.                ओम श्री साईं योगाय नमः
श्री साईं को समर्थ, नमस्कार

630.                ओम श्री साईं रत्नाकारवमशोभ्यै नमः
श्री साई को नमस्कार, जो रत्नाकर के वंश में पैदा हुए हैं

631.                ओम श्री साईं रामाय नमः सलाम
श्री साईं को रमणीय

632.                ओम श्री साईं रामरूपाय नमः
नमस्कार, श्री साई को प्यारा रूप

633.                ओम श्री साईं राजसत्तावा गुनान्वितायै नमः
नमस्कार, श्री साई को, राजसिक और सात्विक पात्रों का स्वामी

634.                भगवान श्री रंगनाथ को श्री साईं को ओम श्री साईं रंगनाथाय नमः सलाम

635.                ओम श्री साईं राग द्वादश विनाशकाय नमः
श्री साईं को विध्वंस करने वाले की लगन और घृणा

636.                ओम श्री साईं रामाय नमः सलाम
श्री साईं को, अनंत आनंद

637.

638.                ओम श्री साईं रजुवामझमनिष्ठाय नमः श्री साई को प्रणाम
, जो राजू परिवार में पैदा हुए हैं

639.                ओम श्री साईं रायाजिवलोचनाय नमः प्रणाम श्री साई को, कमल को नमन

640.                राजा रघु (राम) के पुत्र श्री साई को ओम श्री साईं राघवैया नमः सलाम

641.                ओम श्री साईं रामलिंगाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, भगवान शिव (रामलिंग)

642.                ओम श्री साईं रुद्राय नमः श्री साईं को नमस्कार, दुखों का निवारण
और उसके कारण

643.                श्री साईं रुद्राक्षप्रकाशदाकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, रुद्राक्ष देने वाले को

644.                ओम श्री साई रूपलावनिवग्रहाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, भव्य रूप

645.                ओम श्री साईं रोगनाशनाय नमः
नमस्कार श्री साई को, रोगों का नाश करने वाला

 

646.                ओम श्री साई लक्ष्मीप्रासादकाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो धन देता है

647.                ओम श्री साईं लावण्यरूपाय नमः
श्री साई को नमस्कार है, जो एक आकर्षक व्यक्ति के रूप में है

648.                श्री साईं लिंग लिंगादिश्तन उदाराय नमः श्री साईं को नमस्कार, पेट में मरोड़

649.                ओम श्री साईं लीलामानुष विग्रहाय नमः श्री साईं को नमस्कार, जिसने एक इंसान के रूप में (मानवता के लाभ के लिए) खेलकूद
किया है

650.                ओम श्री साईं लीलाप्रदार्शाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो चंचल है

651.                ब्रह्माण्ड के भगवान श्री साई को ओम श्री साईं लोकनाथाय नमः सलाम

652.                मानव जाति के दाता श्री साई को ओम श्री साईं लोकबंधुदाय नमः सलाम

653.                ओम श्री साईं लोकरक्षापरायणाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो विश्व की रक्षा करता है

654.                ओम श्री साईं लोकशोकविनाशकाय नमः श्री साईं को नमस्कार, दुनियादारी का
नाश करने वाले

655.                ओम श्री साई Lokavandithaaya नमः
श्री साई, जो इस संसार के सम्मान दिया जाता है के लिए अभिवादन

656.                ओम श्री साईं लोकपूज्यै नमः
श्री साई को प्रणाम, जिनकी पूजा सभी संसार करते हैं

657.                ओम श्री साईं लोकनायकाय नमः सलाम
श्री साई को, जो ब्रह्मांड की देखरेख करता है

658.                ओम श्री साईं लोभनाशनाय नमः स्तोत्रं
श्री साईं को, विनाश को नष्ट करने वाले

659.                ओम श्री साईं लोहिताक्षाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जिनकी आंखें लाल हैं

660.                ओम श्री साईं वरदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो इच्छा करता है

661.                ओम श्री साईं वरप्रसादकाय नमः
श्री साईं को वरदान देने वाले

662.                श्री साईं को ओम श्री साईं वरशलायै नमः
नमस्कार

663.                श्री साईं को ओम श्री साईं वरगुणाय नमः सलाम
, जिनके पास उत्कृष्ट गुण हैं

664.                ओम श्री साईं वरेण्यै नमः
श्री साईं को नमस्कार

 

665.                ओम श्री साईं वामशवर्धनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो वंश को समृद्ध बनाता है

666.                ओम श्री साईं वसुप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो सभी धन देता है

667.                ओम श्री साईं वागेश्वराय नमः
नमस्कार, श्री साईं को, भाषाओं का गुरु

668.                ओम श्री साईं वाचस्पतये नमः
नमस्कार, श्री साईं को, प्रभु का भाषण

669.                श्री साईं को ओम श्री साईं वामनाय नमः सलाम
, जो वामन हैं (भगवान विष्णु के 5 वें अवतार)

670.                ओम श्री साईं वासुदेवाय नमः श्री साईं को वासुदेव का पुत्र

671.                ओम श्री साईं विकल्पा वरजिताय नमः
नमस्कार श्री साई को, जो विविधता से रहित हैं

672.                ओम श्री साईं विघ्नविनाशकाय नमः
श्री साईं को बाधाओं का नाश करने वाला

673.                ओम श्री साई विघ्नेश्वराय नमः सलाम
श्री साईं को, बाधाओं का भगवान (गणेश)

674.                ओम श्री साई इनमें से Vi नमः है
श्री साई, प्राणशक्ति को अभिवादन

675.                ओम श्री साईं विठ्ठानामृतितृबिन्दुवे नमः श्री साईं को नमस्कार है, जो अमृत को गिराता
है

676.                श्री साई को ओम श्री साईं विदेहशंकराय नमः सलाम
, जो बिना शरीर के चलने में सक्षम है

677.                श्री साईं को विद्यादायिनी नमः
नमस्कार, जो ज्ञान देता है

678.                ज्ञान के आभूषण से सुशोभित श्री साईं को ओम श्री साईं विद्यालंकरा भूषिताय नमः प्रणाम

679.                ओम श्री साईं विद्यारम्भमूर्तये नमः
श्री साईं को नमस्कार, शिक्षा की शुरुआत में जिनकी पूजा की जाती है

680.                ओम श्री साईं विद्याधराय नमः श्री साईं को नमस्कार है, जो ज्ञान धारण
करते हैं

681.                ओम श्री साईं विनायकाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, भगवान को विनायक

682.                ओम श्री साईं विनताय नमः
श्री साईं को नमस्कार

683.                ओम श्री साई Vipraaya नमः
श्री साई को अभिवादन, सीखा

684.                श्री साईं को ओम श्री साईं विप्रप्रियाय नमः
नमस्कार, जो सीखा पसंद है

685.                ओम श्री साईं विभुदप्रियाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो जागृत को पसंद करता है

686.                ओम श्री साईं विभुदाश्रयाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, वह जो ऋषियों को शरण देता है

687.                ओम श्री साईं विमलायै नमः
श्री साईं को नमस्कार

688.                ओम श्री साईं विरुपाक्षाय नमः
श्री साई को नमस्कार, तीसरी आँख वाले (भगवान शिव) को

689.                ओम श्री साईं विशालाक्षराय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो उदार है

690.                ओम श्री साईं विशालाक्षाय नमः श्री साईं को नमन है
, जिनकी आंखें बड़ी हैं

691.                ओम श्री साईं वशिष्ठाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो विशिष्ट है (एक प्रकार का)

692.                ओम श्री साईं विशुद्धात्मने नमः
श्री साईं को नमस्कार, शुद्ध स्व

693.                ओम श्री साईं विश्वम्भराय नमः श्री साई को प्रणाम
, जो पूरी दुनिया को नमन करता है

694.                ओम श्री साईं विश्वामूर्तिाय नमः श्री साई को प्रणाम
, जिनका शरीर ब्रह्मांड है

695.                ब्रह्माण्ड के रचयिता श्री साई को ओम श्री साई विश्वकर्माणे नमः
सलाम

696.                ब्रह्माण्ड के भगवान श्री साई को ओम श्री साई विश्वेश्वराय नमः
सलाम

 

697.                ओम श्री साईं विष्णवे नमः सलाम
श्री साई को, भगवान विष्णु को, सभी को प्रणाम

698.                ओम श्री साईं वैख्यायनादेवाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, प्रभु जो हर बात समझाते हैं

699.                ओम श्री साईं व्यक्तादेवाय नमः
श्री साईं को दिव्य अवतार

700.                ओम श्री साईं व्यपाकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सभी में व्याप्त

701.                ओम श्री साईं वीनागनाप्रियाय नमः
श्री साई को नमस्कार है, जिन्हें वीणा संगीत पसंद है

702.                श्री साईं को ओम श्री साईं वृत्तिसमस्काराय नमः
नमस्कार

703.                श्री साईं को वृंदावन (भगवान कृष्ण) के बारे में बताने वाले श्री साई को वृंदावनशंकरनै नमः प्रणाम

 

704.                ओम श्री साई वेदपुरुषाय नमः
वेदों के सिद्धांत देवता श्री साई को नमस्कार

705.                ओम श्री साईं वेदात्मने नमः
वेदों की आत्मा श्री साई को नमस्कार

706.                ओम श्री साईं वेदांगाय नमः श्री साईं को नमस्कार, वेदों का प्रणयन

707.                वेदों के रचयिता श्री साई को ओम श्री साई वेदक्रीत नमः प्रणाम

 

708.                ओम श्री साईं वेदवेद्यै नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो वेदों का दर्शन करता है

709.                ओम श्री साई वेदसाराय नमः
श्री साई को वेद का सार

710.                ओम श्री साई वेदवेदांततत्वार्थाय नमः श्री साई को प्रणाम
, जो वेद, वेदांत और ततवा जैसे शास्त्रों का अर्थ है

711.                वेदों और वैदिक विद्वानों के रक्षक श्री साई को ओम श्री साई वेदविदवासदासम्प्रकाशाय नमः प्रणाम

712.                ओम श्री साई वेदशास्त्रा इतिहस्सिवुल्यपन्ननाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो वेदों, शास्त्रों और इतिहासों का सार है

713.                ओम श्री साई युवा शैतान का वादा श्रेणी नमः बुलाया
अभिवादन श्री साई, वेद के मास्टर करने के लिए

714.                ओम श्री साई वेदांतसाराय नमः श्री साईं को नमस्कार, वेदांत
का सार

715.                ओम श्री साईं वेदांतविमलायै नमः
श्री साईं को नमस्कार, वेद का शुद्ध ज्ञान

716.                ओम श्री साईं वैकुण्ठापतये नमः वैकुंठ
के संप्रभु श्री साई को नमस्कार

717.                ओम श्री साई शक्तिप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो शक्ति प्रदान करता है

718.                ओम श्री साईं शक्ति धाराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, वह व्यक्ति जो शूरवीर और वीरता का प्रतीक है

 

719.                ओम श्री साई शत्रुमर्धनाय नमः शत्रुओं का नाश करने वाले श्री साई को प्रणाम

720.                ओम साईं श्री शत्रुप्रतापनिधानाय नमः प्रणाम श्री साई को, जो प्रतिद्वंद्वी शक्तियों को मार डालता है

721.                ओम श्री साईं श्रावणाय नमः
स्तोत्रं श्री साईं, भगवान शरण (शिव का पुत्र)

722.                श्री साईं को ओम श्री साईं शरणाय नमः
सलाम, जो शरणागत को शरण देते हैं

723.                ओम श्री साईं शरणागतवत्सलाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो आत्मसमर्पण करने वाला है

724.                समर्पण के रक्षक श्री साई को ओम श्री साईं शरणागतत्रयानाय नमः सलाम

725.                ओम श्री साईं शरणागतानतपराय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो शरणार्थियों की मदद करने में लगे हुए हैं

726.                समर्पण के संरक्षक श्री साई को ओम श्री साईं शरणागतोपासनाय नमः सलाम

727.                ओम श्री साई शशिशेखराय नमः श्री साई को प्रणाम
, जिनके सिर पर मुकुट के रूप में चंद्रमा है (भगवान शिव)

728.                श्री साई नमः ओम में Shaanthaaya
साई में श्री के लिए अभिवादन, बस शांतिपूर्ण

729.                ओम श्री साई शांताकाराय नमः
श्री साई को नमस्कार है, जिनका शांत स्वरूप है

730.                ओम श्री साई शांतमूर्तिाय नमः
को श्री साई को नमस्कार है, जिनकी शांत छवि है

731.                ओम श्री साई Shaanthamaanasaaya नमः
श्री साई, जिसका मन शांतिपूर्ण है करने के लिए अभिवादन

732.                ओम श्री साईं शांतिस्वरुपाय नमः
नमस्कार, श्री साई को शांति का स्वरूप

733.                ओम श्री साईं शान्तजनप्रियाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो शांत व्यक्तियों को पसंद करते हैं

734.                ओम श्री साईं शांतिदायाय नमः नमस्कार, श्री साईं को शांति का महात्म्य

735.                श्री साई नमः ओम में Shaanthidevaaya
साई में श्री के लिए अभिवादन, शांति एक के बस अवतार

736.                ओम श्री साईं शाश्वतायै नमः
श्री साईं को नमस्कार

737.

738.                ओम श्री साईं शिव शंकरराय नमः
सलाम श्री साईं को, भगवान शिव शंकर (कृपा और शुभ)

739.                ओम श्री साईं शिष्टपैरिपलाकाय नमः
नमस्कार, श्री साईं के अभिभावक हैं

ओम श्री साईं शुभदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, समृद्धि प्रदान करने वाला

740.                ओम श्री साईं शुभांगनाय नमः प्रणाम
, श्री साई को, आकर्षक व्यक्ति को

741.                ओम श्री साई Shubhramaargapradaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, जो उज्ज्वल पथ अनुदान

742.                ओम श्री साईं शुभ्रवस्त्राय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो उज्ज्वल वस्त्र पहनते हैं

 

743.                ओम साईं श्री साईं शुद्धास्तिकारुपाय नमःations श्री साईं
को नमस्कार, जिसका स्वरूप स्फटिक की तरह स्पष्ट है

 

744.                ओम् श्री साईं शुन्यमण्डलमध्यस्थाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, खाली (विचारहीन) मन का केंद्र

745.                ओम श्री साईं शुन्यमण्डलवासिने नमः सलाम
श्री साई को, जो आकाश में निवास करता है

746.                ओम श्री साईं श्रीराध्याय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो भाग्य के अधिकारी हैं

747.                ओम श्री साईं श्रीतिसागरगराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, पवित्रता का सागरपवित्र पुस्तकें

748.                ओम श्री साईं श्रीतिस्मृतिमपनाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो सभी पवित्र ग्रंथों से परिचित हैं

749.                ओम श्री साईं श्रीशतायै नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो सभी में श्रेष्ठ है

750.                श्री साईं को ओम श्री साईं सौर्यवाहाय नमः सलाम
, समृद्धि का साधन है

751.                ओम श्री साईं शशासायिने नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो सर्प (शेष) पर विश्राम कर रहे हैं

752.                दुःखों का नाश करने वाले श्री साईं को ओम श्री साईं शोकनाशनाय नमः सलाम

753.                ओम श्री साईं शोभनाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, भव्य

754.                श्रीं श्री साईं शमसुन्दराय नमः शिवाय
श्री साईं

755.                श्री साईं शिरडी साईंमूर्तये नमः शिवाय
को शिरडी साईं बाबा का अवतार

756.                ओम श्री साईं शिरडी साईं अभेदशक्तिकवताराय नमः सलाम
श्री साईं को, शिरडी साईं बाबा का अवतार, दोनों की महिमा बिना अंतर के

757.

758.                ओम श्री साईं क्षेमधाराय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो सर्वोच्च धैर्य रखते हैं

759.                ओम श्री साईं क्षिप्राकाराय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो पापों को समाप्त कर सकता है

760.                ओम श्री साईं क्षयवृद्धिनिर्मुक्ताय नमः
श्री साईं को नमस्कार, उदय और पतन से मुक्ति दिलाने वाला

761.

762.                ओम श्री साईं क्षेमनिवाराय नमः नमस्कार, श्री साई को, अकाल का निवारण

763.                श्री साईं क्षेमवृजिताय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो अभावों से रहित हो

764.                ओम श्री साईं क्षिप्रप्रसादाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो शीघ्र कृपा करते हैं

765.                ओम श्री साईं क्षेमदयायकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो दिलासा देते हैं

766.                श्री साईं को ओम श्री साईंक्षेत्राय नमः प्रणाम
, जो गर्भ से जन्म लेते हैं (अवतार के रूप में)

767.                पृथ्वी के भगवान श्री साई को ओम श्री साईं क्षत्रपालकाय नमः सलाम

768.                सम्पूर्ण तांत्रिक कार्य के प्रचारक श्री साईं को श्री श्री साईं सकलगामापारकाय नमः सलाम

769.                ओम श्री साईं सकलामशमहारायै नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो सभी शंकाओं को दूर करता है

770.                ओम श्री साईं सकलात्त्वबोधकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो सभी सिद्धांतों को सिखाते हैं

771.                भगवान श्री स्कंद (शिव का पुत्र) श्री साई को स्कंदाय नमः
नमस्कार

772.                ओम श्री साईं सतपुरुषाय नमः
प्रणाम श्री साई को, शाश्वत निरपेक्ष

773.                ओम श्री साईं सतपरायणाय नमः
नमस्कार, श्री साई को सत्य का लक्ष्य

774.                ओम श्री साई सद्गुरुवे नमः श्री साईं को पवित्र शिक्षक को प्रणाम

775.                ओम श्री साईं श्रीगणनाथाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, सार्वभौम भाव

776.                ओम श्री साईं सत्याय नमः सलाम
श्री साई को, सत्य

777.                ओम श्री साईं सत्यनारायणाय नमः श्री साईं को प्रणाम
भगवान श्री सत्यनारायण

778.                ओम श्री साई सत्य Rupaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, सच के रूप

779.                सत्य और ज्ञान के स्वामी श्री साई को ओम श्री साईं सत्यनाम नमन
नमस्कार

780.                ओम श्री साईं सत्यप्रियाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो सत्य को पसंद करते हैं

781.                ओम श्री साईं सत्यव्रताय नमः श्री साई को नमस्कार, जिन्होंने सत्य व्रत धारण
किया है

782.                ओम साईं श्री सत्यमधर्मपरायणाय नमः श्री साईं को नमस्कार, जो सत्य और धार्मिकता के अनुकूल हो

783.                ओम श्री साई Sathyasankalpaaya नमः
श्री साई, जिसका सोचा सच्चाई यह है करने के लिए अभिवादन

784.                श्री साईं को ओम श्री साईं सत्सवासायाय नमः सलाम
, जिनका निवास सत्य है

785.                ओम श्री साई Sathyasandhaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, जो अपने वादे रहता है

786.                ओम श्री साईं सत्यं वचनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो हमेशा सत्य बोलता है

787.                ओम श्री साईं सत्यानंद स्वरूपाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सत्य और आनंद की पहचान

788.                ओम श्री साईं सत्य ततव बोधकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो सत्य के सिद्धांतों का प्रचार करता है

789.                ओम श्री साईं सत्यम् शिवम् सुंदरस्वरुपाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सत्य, शुभता और आनंद का स्वरूप

790.                ओम श्री साईं सत्यं स्वाभवाय नमः
को श्री साईं को नमस्कार है, सत्य स्वभाव वाला

791.                ओम श्री साई सत्य Rupaaya नमः
श्री साई को अभिवादन, सच के रूप

792.                ओम श्री साईं शतवाचिन्तकाय नमः प्रणाम
श्री साईं को, प्रबल विचारक

793.                ओम श्री साईं सदाशिवाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, भगवान सदाशिव (सदा शुभ)

794.                ओम श्री साईं सदाभक्तिनाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, जो हमेशा भक्तों के बारे में सोचते हैं

795.                ओम श्री साईं सदानंदाय नमः स्तोत्रं
श्री साई को सदा आनंद

796.                ओम साईं श्री साईं सनकादिमुनिस्तुत्यै नमः
श्री साई को नमस्कार, जिनकी स्तुति सनक और अन्य ऋषियों द्वारा की जाती है

797.                सत्य के वास श्री साई को ओम श्री साईं शिवनिवासाय नमः सलाम

798.                ओम श्री साई Sandehanivarine नमः
श्री साई को अभिवादन, संदेह का हरण करने

799.                महान संतों के रक्षक श्री साई को ओम श्री साईं सौमुनिशरणाय नमः सलाम

800.                ओम श्री साईं सन्यासाय नमः
नमस्कार, श्री साई को, तपस्वी

801.                सत्य और परम आत्मा श्री साई को ओम श्री साईं सच्चिदात्मने नमः सलाम

802.                ओम श्री साईं सच्चिदानंदाय नमः प्रणाम
श्री साई को, परम चेतना और आनंद

803.                ओम श्री साईं समर्थाय नमः सलाम
श्री साई को, जो बहुत ही सक्षम है

804.                ओम श्री साईं सम्भवया नमः श्री साईं को प्रणाम
, जिनकी समता है

805.

806.                ओम श्री साईं समरसगुणाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जिनके पास स्थिर भावनाएं हैं

807.                श्री साईं को समरससम्पन्नाया नमः
सलाम, जो समभाव रखता है

808.                ओम श्री साईं समरसानामार्गस्तपनाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो न्यायी और धर्म मार्ग की स्थापना करते हैं

809.                धार्मिक ध्यान के शौकीन श्री साई को ओम श्री साईं समाधानात्पराय नमः सलाम

810.

811.                ओम श्री साईं सरसायाय नमः
श्री साईं को नमस्कार

812.                सर्वत्र श्री साईं सर्वमात्मने नमः
को सार्वभौमिक आत्मा

813.                ओम श्री साईं सर्वजनप्रियाय नमः
श्री साई को नमस्कार है, जो सभी को प्रिय है

814.                ओम श्री साईं सर्वलोकपूज्यै नमः श्री साईं को नमन
, जिनकी सभी दुनिया में पूजा होती है

815.                ओम श्री साईं सर्वशक्तिमूर्तियै नमः श्री साईं को नमस्कार, कुल ऊर्जा का प्रवर्तन

816.                Om Sri Sai Sarvavidyaadhipaaya Namah
Salutations to Sri Sai, the master of total knowledge

817.                ओम श्री साईं सर्वसंगपरायत्यगिने नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो सभी बंधनों से मुक्त हैं

818.                ओम श्री साई सर्वतन्त्राय नमः
नमस्कार श्री साईं को सर्वव्यापी

819.                ओम श्री साईं सर्वभयानिवाहिने नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो सभी भय को दूर करता है

820.                ओम श्री साईं सर्वधराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सब कुछ का आधार

821.                ओम श्री साईं सर्वदेवतायै नमः
श्री साईं को नमस्कार, सभी भगवानों का रूप

822.                ओम श्री साईं सर्वहृदवासिने नमः श्री साईं को नमन , हर दिल में बसने वाला

823.                श्री साईं सर्वपुन्यालापलप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सभी लाभ देने वाले

824.                श्री साई सर्वपापप्रकाशाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सभी पापों के फल का नाश करने वाला

825.                ओम श्री साई सर्वविघ्नविनाशनाय नमः Sal श्री साईं
को नमस्कार, सभी बाधाओं का नाश करने वाला

826.                सभी रोगों का निवारण करने वाले श्री साईं को ओम श्री साईं सर्वज्ञानविनायकाय नमः

827.

828.                सभी दुखों का नाश करने वाले श्री साई को ओम श्री साईं सर्वभद्राय नमः सलाम

829.                ओम श्री साईं सर्वदुःखप्रशमन्यै नमः
श्री साईं को नमस्कार, सभी दुखों का नाश करने वाला

830.                सभी कठिनाइयों का नाश करने वाले श्री साई को ओम श्री साईं सर्वभूतानिवकाराय नमः सलाम

831.                ओम श्री साईं सर्वभूतेषप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो सभी कामनाओं को पूरा करते हैं

832.                ओम श्री साईं सर्वमंगलकाराय नमः
प्रणाम श्री साई को, जो हर बात को शुभ मानते हैं

833.                ओम श्री साईं सर्वसिद्धिप्रदाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो सार्वभौमिक सफलता देता है

834.                ओम श्री साई सर्वमथसमथाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, सभी धर्मों को स्वीकार करने वाला

835.                ओम साईं श्री साईं सर्वकल्याणसम्पन्नाय नमः
को श्री साईं नमस्कार, जो सभी शुभता से संपन्न है

836.                श्री साईं को ओम श्री साईं सर्वज्ञायताय नमः सलाम
, जो सभी को अच्छी तरह से पता है

837.                सभी देवताओं के भगवान श्री साई को ओम श्री साईं सर्वदेवतामूर्तये नमः प्रणाम

838.

839.                ओम श्री साई सहजात्मने नमः
श्री साई को वास्तविक आत्मा को नमस्कार

840.                ओम श्री साईं संकटायराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो कठिनाइयों को दूर करता है

841.                ओम साईं श्री साईं समर्धकाया नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो शालीनता को बढ़ावा देता है

842.                ओम श्री साईं संकीर्तनप्रियाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो भजनों को पसंद करते हैं

843.                ओम श्री साईं संप्रदायाय नमः प्रणाम
श्री साई को आत्म संतोष

844.                ओम श्री साईं सम्पूर्णाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो पूर्ण है

845.                ओम श्री साईं संसारदुःखायकाराय नमः
श्री साईं को नमस्कार, संसार के दुखों का नाश करने वाला

846.                ओम श्री साईं संगीतासन्त्रिपत्राय नमः
श्री साई को नमस्कार है, जो संगीत से संतुष्ट हैं

847.                ओम श्री साईं सत्संगपूजितयै नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जिनकी पूजा अच्छे लोग करते हैं

848.                ओम श्री साईं सरसाक्षाय नमः प्रणाम श्री साई को, कमल को नमन

849.                ओम श्री साईं साढाकाणूगरावतवृक्षाय नमः शिवाय
श्री साईं को नमस्कार है, जिसने बरगद के पेड़ को स्थापित किया है जो ज्ञान के साधकों को आशीर्वाद दे सकता है

850.                ओम श्री साईं साधकप्रकाराय नमः श्री साईं को साधक
नमस्कार करते हैं

851.                ओम श्री साईं साधुव्रतनाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो सदाचार को बढ़ावा देता है

852.

853.                ओम श्री साईं सहदुमनाशोभिताय नमः श्री साईं को नमन , जो धर्मपरायण लोगों के मन को प्रसन्न
करता है

854.                श्री साईं साईं सदुमासनसपिरिशोधकाय नमः श्री साईं को नमस्कार, मन को प्रसन्न
करने वाला

855.

856.                ओम श्री साईं समागमणप्रियाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो सामनों के जप को पसंद करते हैं (साय वेद के भजन)

857.

858.                श्री साईं को ओम श्री साईं सिद्धसंकल्पाय नमः
प्रणाम, जिनकी कामना उनके संकल्प से पूरी होती है

859.                ओम श्री साईं सिद्धासंगसमन्विताय नमः
को श्री साईं को नमस्कार है, जो धर्मपरायण से जुड़े हैं

860.                ओम श्री साईं सिद्धेश्वराय नमः श्री साईं को प्रणाम
, पूर्णता के भगवान

861.                ओम श्री साईं सिद्धार्थाय नमः श्री साईं को प्रणाम
, कुशल

862.                ओम श्री साईं सिद्धिप्रदाय नमः प्रणाम श्री साईं को, सफलता का महापर्व

863.                श्री साईं को ओम श्री साईं सुकुमाराय नमः
नमस्कार

864.                ओम श्री साईं सुखदाय नमः प्रणाम श्री साईं को, सुख के दाता

865.                ओम श्री साईं सुमुखाय नमः सलाम
श्री साई को, उज्ज्वल का सामना

866.                ओम श्री साईं सुदर्शनाय नमः
श्री साई को प्रणाम, जिनके दर्शन से मोक्ष मिलता है (जो आसानी से भक्तों द्वारा देखा जाता है)

867.                श्री साईं को ओम श्री साईं सुमनोहराय नमः
नमस्कार

868.                ओम श्री साईं सूर्यराय नमः श्री साईं को प्रणाम
, देवताओं में सबसे महान

869.                देवताओं के प्रमुख श्री साई को ओम श्री साईं सुरोत्तमाय नमः सलाम

870.

871.                ओम श्री साईं सुंदररूपाय नमः
श्री साईं को सुंदर रूप

872.                ओम श्री साईं सुलभभासनाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो आसानी से प्रसन्न हो जाता है

873.                श्री साईं को ओम श्री साईं सुलोचनाय नमः
सलाम, जिनकी आंखें खूबसूरत हैं

874.                ओम श्री साई Suprasaadaaya नमः
श्री साई, जो extremeley दयालु है करने के लिए अभिवादन

875.                ओम श्री साईं सुप्रदीपताय नमः प्रणाम
श्री साई को, सबसे चमकदार

876.                ओम श्री साईं सुशीलायै नमः
प्रणाम श्री साई को, सुव्यवस्थित

877.                श्रीं श्रीं साईं सुश्रीताचट्टाचार्यै नमः श्री साईं को सादर
नमस्कार

878.                ओम श्री साईं सुजनपालाय नमः
सलाम, श्री साई को, अच्छे के रक्षक

879.                ओम श्री साईं सुब्रह्मण्यै नमः
नमस्कार श्री साई को, सुब्रमण्य का रूप (शिव का पुत्र)

880.

881.                ओम श्री साईं स्वप्रकाशाय नमः प्रणाम
श्री साई को, स्वयं प्रकाशमान

882.                ओम श्री साईं स्वयंभूवे नमः
प्रणाम श्री साई को, जो स्वयं विद्यमान हैं

883.                ओम श्री साईं स्वपचोत्पादादितामृतकलशाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जिसने बनाया होगा अमृत के साथ जार

884.                श्री साई को ओम श्री साईं सोमस्कंदाय नमः प्रणाम
, जो उनके साथी के रूप में चंद्रमा हैं

885.                ओम श्री साईं स्तुवाय नमः स्तोत्रं
श्री साईं की स्तुति

886.                ओम श्री साईं श्रीत्राय नमः सलाम
श्री साई को, स्थायी करें

887.                ओम श्री साईं शतुलसुक्षमप्रदर्शकाय नमः
नमस्कार करने वाले श्री साई

888.                ओम श्री साईं स्तोत्राय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो स्तुति भजन पसंद करते हैं

889.

890.                ओम श्री साईं हरिहराय नमः
श्री साई को भगवान विष्णु और शिव को नमस्कार

891.                परम आत्मा को श्री साईं को ओम श्री साईं नमः नमः सलाम

892.                ओम श्री साई हितकाराय नमः सलाम
श्री साई को, लाभ देने वाले को

893.                श्री साईं हृदयविदारय नमः श्री साईं को नमस्कार है, जो दिलों में बसता है

894.                ओम श्री साईं ह्रदयग्रन्थिचदकाय नमः
श्री साईं को नमस्कार है, जो दिल में गहराई तक प्रवेश करते हैं

895.                इन्द्रियों के स्वामी श्री साई को श्री साईं हृषीकेशाय नमः
प्रणाम

896.                ओम श्री साईं ज्ञानमूर्तियै नमः प्रणाम श्री साई को, ज्ञान ने किया मान

897.                ओम श्री साईं ज्ञानस्वरुपाय नमः सलाम
श्री साई को, ज्ञान का अवतार

898.                ओम श्री साईं ज्ञानप्रकाशाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो ज्ञान को प्रकाशित करता है

899.                ओम श्री साईं ज्ञानवताराय नमः श्री साईं को नमस्कार, अवतार का ज्ञान

900.                ज्ञान के लक्ष्य श्री साईं को ओम श्री साईं जननागाम्यै नमः सलाम

901.                ओम श्री साईं ज्ञानमहानिधानाय नमः प्रणाम
श्री साई को, ज्ञान का महान खजाना

902.                ओम श्री साईं ज्ञानसिद्धाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, जो ज्ञान की पूर्णता को प्राप्त करता है

903.                ओम श्री साईं जननायवरायगदाय नमः
श्री साई को नमस्कार, जो ज्ञान देता है और शब्द इच्छाओं के प्रति आसक्ति को दूर करता है

904.                ओम श्री साईं ज्ञानचक्षुशाय नमः
श्री साईं को नमस्कार, ज्ञान की दृष्टि देने वाले

905.                श्री साईं जनानानेत्रसम्भुताय नमः
श्री साईं को नमस्कार, वह व्यक्ति जो बुद्धिमत्ता की दृष्टि रखता है

906.                श्री साईं ज्ञानेश्वराय नमः
नमस्कार श्री साईं को, ज्ञान के गुरु

907.                ओम श्री साईं ज्ञानविनाशनाशोभिताय नमः
श्री साईं को नमस्कार, बुद्धि और विशेष ज्ञान से संपन्न

908.                भगवान श्री सत्य साईं बाबा को श्री साईं साईं सत्य साईं बाबाया नमः सलाम

 

 

 

 

 

 

 

tag : bhagwan sri sathya sai baba namavali , name of satya sai baba Sahasranamavali in hindi

NO COMMENTS