आज का पंचांग: मार्गशीर्ष २०२० अघास मास १ दिसंबर से शुरू हुआ

42

मार्गशीर्ष कृष्ण पक्ष प्रारंभ मृग छोड़ी स्नान प्रारंभ। इस महीने में भगवान सूर्य की उपासना की जाती है। ऐसा कहा जाता है कि सतयुग का आरम्भ भी इसी महीने से माना जाता है। सूर्य दक्षिणायन, हेमंत ऋतु। राहुकाल शाम 3 बजे से शाम चार बजे तक रहेगा।

मार्गशीर्ष 10 शक संवत 1942 मार्गशीर्ष कृष्ण प्रतिपदा मंगलवार विक्रम संवत 2077। सौर मार्गशीर्ष मास प्रविष्टे 17, रबी उल्सानी 15, हिजरी 1442 (मुस्लिम) इसी तरह अंग्रेजी तारीख 01 दिसंबर सन् 2020 ई। ई।

प्रतिपदा तिथि सायं 04 बजकर 52 मिनट तक उपरांत द्वितीय तिथि का आरंभ, रोहिणी नक्षत्र प्रात: 08 बजकर 31 मिनट तक उपरांत मृगशिरा नक्षत्र का आरंभ।

Source link

NO COMMENTS

Leave a Reply