Mother’s Day Special- उस की मम्मी मेरी अम्मा : दो मांओं की कहानी

6
Latest breaking news 

download the app here 

सरस सलिल विशेष


ek tavayaf

दीक्षा की मम्मी उसे कार से मेरे घर छोड़ गईं. मैं संकोच के कारण उन्हें अंदर आने तक को न कह सकी. अंदर बुलाती तो उन्हें हींग, जीरे की दुर्गंध से सनी अम्मा से मिलवाना पड़ता. उस की मम्मी जातेजाते महंगे इत्र की भीनीभीनी खुशबू छोड़ गई थीं, जो काफी देर तक मेरे मन को सुगंधित किए रही.



Source link

Latest breaking news 

download the app here 

NO COMMENTS